बुलडोजर को लेकर योगी का आदेश, पेशेवर माफिया-अपराधियों को छोड़े नहीं, गरीबों को छुएं नहीं

बुलडोजर को लेकर योगी का आदेश, पेशेवर माफिया-अपराधियों को छोड़े नहीं, गरीबों को छुएं नहीं
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में सत्ता में वापसी के बाद एक बार फिर से योगी आदित्यनाथ सरकार लगातार बड़े और कड़ फैसले ले रही है। इन सबके बीच योगी आदित्यनाथ का बुलडोजर भी काफी सुर्खियों में है। सत्ता में वापसी के बाद माफियाओं और अपराधियों के खिलाफ लगातार योगी आदित्यनाथ का बुलडोजर चल रहा है। इसी कड़ी में आज योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिया है। अपने निर्देश में योगी ने साफ तौर पर कहा कि अवैध निर्माण गिराने की कार्रवाई सिर्फ पेशेवर माफिया, अपराधियों के खिलाफ हो और सुनिश्चित किया जाए कि बुलडोजर किसी गरीब की झोपड़ी या दुकान की तरफ ना मुड़े। आपको बता दें कि प्रदेश में माफियाओं और अपराधियों द्वारा किए गए अवैध निर्माण या जबरन कब्जा की गई जमीन पर किए गए निर्माण को गिराने की कार्रवाई लगातार जारी है। 

 
सरकार की आर से जारी एक आदेश के मुताबिक मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि किसी गरीब की दुकान, मकान या झोपड़ी पर बुलडोजर नहीं चलेगा। कार्रवाई माफिया की अवैध संपत्ति पर की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा है कि गरीबों की संपत्ति पर कब्जा करने वालों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई की जाए और सुनिश्चित किया जाए कि भविष्य में ऐसी शिकायत ना आए। बुलडोजर योगी आदित्यनाथ नीत भाजपा सरकार के दूसरे कार्यकाल का प्रतीक चिन्ह बन गया है। यहां तक कि उत्तर प्रदेश चुनावों में मिली जीत के बाद योगी आदित्यनाथ को बुलडोजर बाबा का नाम दिया गया है। प्रदेश में बुलडोजर का ऐसा खौफ है कि राज्य की सत्ता में भाजपा की वापसी के दो सप्ताह में 50 से ज्यादा अपराधियों ने खुद को पुलिस के हवाले किया है। 
 
अपर मुख्य सचिव (सूचना) नवनीत सहगल ने कहा, बुलडोजर संदेश दे रहे हैं कि उत्तर प्रदेश में अपराधियों और माफियाओं का अब तंत्र पर नियंत्रण नहीं है। यह सरकार में गरीबों का विश्वास भी पैदा कर रहा है। राज्य के कई जाने माने नेता और प्रभावशाली राजनेता भी बुलडोजर के शिकार हो चुके हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आपत्तिजनक और भड़काऊ टिप्पणी करने के आरोपी बरेली की भोजीपुरा सीट से समाजवादी पार्टी (सपा) विधायक और पूर्व मंत्री शहजिल इस्लाम के कथित तौर पर अवैध रूप से निर्मित पेट्रोल पंप को जिला प्रशासन ने बृहस्पतिवार को ध्वस्त करा दिया था। बरेली विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष जोगेंद्र सिंह ने बताया था कि सपा विधायक इस्लाम के बरेली-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग पर परसाखेड़ा स्थित पेट्रोल पंप को बुलडोजर से ध्वस्त कर दिया गया। यह एकमात्र मामला नहीं है। समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन के चाचा सरवन हसन द्वारा कैराना में कब्जा की गई जमीन को बुलडोजर की मदद से शामली जिला प्रशासन ने बुधवार को खाली कराया।

Source Link

DNSP NEWS

Next Post

CBI चीफ को नहीं मांगनी पड़ेगी आकार पटेल से माफी, दिल्ली HC ने पलटा फैसला, बिना अनुमति देश छोड़ने पर रोक बरकरार

Fri Apr 8 , 2022
सीबीआई की विशेष अदालत ने आज एमनेस्टी इंटरनेशनल इंडिया के पूर्व अध्यक्ष आकार पटेल के लुकआउट नोटिस को लेकर निचली अदालत के दिए फैसले को पलट दिया। सीबीआई कोर्ट ने ने आकार पटेल को उसकी इजाजत के बगैर देश नहीं छोड़ने का निर्देश दिया है। सीबीआई कोर्ट के जज संतोष […]

You May Like

Breaking News