National

महाराष्ट्र कांग्रेस महिला अध्यक्ष संध्याताई सव्वालाखे का ऐलान, PM मोदी को लौटाएंगे उज्ज्वला गैस सिलेंडर

महाराष्ट्र कांग्रेस महिला अध्यक्ष संध्याताई सव्वालाखे का ऐलान, PM मोदी को लौटाएंगे उज्ज्वला गैस सिलेंडर

मुंबई। लोगों को बेहतर भविष्य का सपना दिखाने वाली केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने अब आम आदमी का जीना मुश्किल कर दिया है। ईंधन और गैस की बढ़ती कीमतों ने महिलाओं के रसोई बजट को पूरी तरह से बिगाड़ दिया है। केंद्र की मोदी सरकार पर यह हमला महाराष्ट्र महिला कांग्रेस अध्यक्ष संध्याताई सव्वालाखे ने बोला है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश की महिलाओं के जीवन में नई क्रांति लाने की बात कह कर उज्ज्वला गैस सिलेंडर को लांच किया था, लेकिन अब इसकी कीमत न चुका पाने के कारण गरीब महिलाओं ने फिर से गैस सिलेंडर छोड़कर चूल्हे पर खाना बनाना पड़ रहा है। सव्वालाखे ने कहा कि इसके विरोध में महिला कांग्रेस की ओर से रविवार को प्रदेश के सभी जिलों में आंदोलन किया जाएगा। 

शनिवार को तिलक भवन में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए सव्वालाखे ने केंद्र सरकार की जम कर आलोचना की। उन्होंने कहा कि महंगाई बढ़ाकर केंद्र सरकार ने संक्रांति के लिए महिलाओं के उत्साह को कम करने की कोशिश की है। ईंधन की बढ़ती कीमतों ने आवश्यक वस्तुओं की कीमतों को बढ़ा दिया है। प्रधानमंत्री मोदी ने बड़े ताम – झाम के साथ उज्ज्वला योजना के जरिए महिलाओं को मुफ्त गैस सिलेंडर देने का ऐलान किया. लेकिन अब गैस सिलेंडर के दाम में भारी बढ़ोतरी से महिलाएं इस सिलेंडर को खरीदने का खर्चा नहीं उठा सकती हैं। उज्ज्वला योजना के अधिकांश लाभार्थियों ने अब सिलेंडर का इस्तेमाल करना बंद कर दिया है और महिलाएं फिर से चूल्हे पर खाना बना रही हैं। इसलिए महाराष्ट्र प्रदेश महिला कांग्रेस, अब विरोध के तौर पर इस सिलेंडर को वापस प्रधानमंत्री मोदी के पास भेजेगी। रविवार को प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर महिलाएं आंदोलन करेंगी। महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष सव्वालाखे पुणे में आयोजित आंदोलन में भाग लेंगी।

इससे पहले महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नाना पटोले ने राज्य की सभी जिला कांग्रेस समितियों में एक महिला को कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में नियुक्त करने की घोषणा की। संध्याताई सव्वालाखे को महिला राज्य अध्यक्ष के रूप में नियुक्त हुए एक साल हो चुका है। उन्होंने कहा कि इस एक साल के दौरान महंगाई के खिलाफ महिला कांग्रेस की ओर से पूरे राज्य में आंदोलन हुए। बाढ़ प्रभावित इलाकों में बड़े पैमाने पर राहत कार्य चलाया गया। छात्राओं को कराटे व आत्मरक्षा का पाठ पढ़ाया गया। कानूनी प्रकोष्ठ के माध्यम से कोरोना की अवधि के दौरान घरेलू हिंसा का सामना करने वाली महिलाओं को कानूनी सहायता प्रदान की गई। उन्होंने यह भी कहा कि महाराष्ट्र में शक्ति अधिनियम लाने के लिए राज्य सरकार से भी पहल की थी।

पवन यादव की नियुक्ति

समाज में उपेक्षित तृतीय पंथी समुदाय के लोगों की समस्याओं को हल करने और उन्हें मुख्यधारा में लाने के लिए महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस के तहत एक सेल का गठन किया गया है। इसके अध्यक्ष पद पर पवन यादव को नियुक्त किया गया है। पवन एक कानून स्नातक है, जो मुंबई की अदालतों में वकालत करते हैं और इस समुदाय से जुड़े मुद्दों को हल करने के लिए सारथी फाउंडेशन के माध्यम से काम करते हैं।

Source Link