विधानपरिषद चुनाव में राजग के कई उम्मीदवारों की हार पर नीतीश ने आश्चर्य जताया

विधानपरिषद चुनाव में राजग के कई उम्मीदवारों की हार पर नीतीश ने आश्चर्य जताया

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य विधानपरिषद के हालिया द्विवार्षिक चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के कई उम्मीदवारों की हार पर शनिवार को आश्चर्य जताया। हालांकि, मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव परिणामों से राज्य विधानमंडल के उच्च सदन में राजग सदस्यों की संख्या घटना सत्तारूढ़ गठबंधन के लिए चिंता कोई विषय नहीं है।

उन्होंने जोर देते हुए कहा कि इसका अगले हफ्ते होने वाले बोचहा विधानसभा उपचुनाव पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा, जहां वह भाजपा उम्मीदवार की जीत को लेकर आश्वस्त हैं। जनता दल (यूनाइटेड) के वरिष्ठ नेताकुमार ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘विधानपरिषद चुनाव ऐसा नहीं है जिसमें उम्मीदवारों को लोग प्रत्यक्ष रूप से चुनते हैं। हालांकि, मैं यह देखकर आश्चर्यचकित हूं कि जीत के प्रति काफी आश्वस्त नजर आ रहे उम्मीदवार हार गये।’’

विधानपरिषद की 24 सीटों पर हुए हालिया चुनाव में राजग के 13 उम्मीदवार विजयी हुए। इनमें भारतीय जनता पार्टी को सात सीटों पर जीत मिली जबकि मुख्यमंत्री की पार्टी जद(यू) के खाते में पांच सीटें आईं। केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस की लोक जनशक्ति पार्टी को एक सीट पर जीत मिली। हालांकि, जब भाजपा नीत गठबंधन में जद(यू) शामिल नहीं था और 2015 में चुनाव हुए थे तब राजग ने इनमें से कुल 20 सीटों पर जीत दर्ज की थी। मुख्यमंत्री ने भी इस तथ्य को रेखांकित किया।

पिछला विधानपरिषद चुनाव, कुमार की पार्टी ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के साथ मिलकर लड़ा था, उस वक्त दोनों पार्टियां महागठबंधन में शामिल थीं। कुमार ने पिछले विधानपरिषद चुनाव का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘भाजपा ने उस वक्त अच्छा प्रदर्शन किया था जब हम अलग-अलग गठबंधन में थे। इसलिए, ये चीजें हुआ करती हैं। ’’

भाजपा ने 12 सीटें जीती थी जबकि जद(यू) ने आठ सीटों पर जीत दर्ज की थी, जबकिराजद को केवल दो सीटों पर ही जीत मिल सकी थी। कुमार ने कहा कि वह राजग उम्मीदवार के पक्ष में चुनाव प्रचार करने के लिए रविवार को बोचहा जाएंगे।

यह उपचुनाव विधायक मुसाफिर पासवान का निधन हो जाने के चलते कराने की जरूरत पड़ी हैं। उपचुनाव में उनके बेटे अमर पासवान राजद उम्मीदवार हैं। भाजपा ने बेबी कुमारी को उम्मीदवार बनाया है, जो 2015 में इस सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर विजयी हुई थीं। वहीं, विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी ने गीता देवी को पार्टी का टिकट दिया है जो पूर्व मंत्री रमई राम की बेटी हैं।

Source Link

DNSP NEWS

Next Post

10 अप्रैल को निकलेगी विशाल भगवा ध्वज वाहन यात्रा, यात्रा में शामिल होगा बुलडोजर Aligarh News

Sat Apr 9 , 2022
Aligarh: प्रभु श्रीराम के जन्मोत्सव एवं हिन्दू युवा वाहिनी के 20वें स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में वार्षिक विशाल भगवा ध्वज वाहन यात्रा अचल ताल स्थित प्राचीन सिद्धपीठ श्री गिलहराज जी हनुमान मंदिर में प्रभु श्रीराम की आरती के उपरांत निकली जाएगी। x विभाग प्रभारी महंत योगी कौशलनाथ ने बताया कि […]

You May Like

Breaking News