गोरखपुर केस में आरोपी मुर्तजा का बड़ा कबूलनामा, CAA-NRC के गुस्से में किया मंदिर में हमला

गोरखपुर केस में आरोपी मुर्तजा का बड़ा कबूलनामा, CAA-NRC के गुस्से में किया मंदिर में हमला

गोरखपुर केस में मुर्तजा अब्बासी का बड़ा कबूलनामा सामने आया है। उसे ऐसा लगता है कि सीएए एनआरसी में मुसलमानों के साथ गलत हुआ। उसे ऐसा लगता था कि देश में मुसलमानों के साथ गलत व्यवहार किया जा रहा है। इसलिए उसने नाराजगी के चलते ये बड़ा फैसला लिया कि वो यहां पर हमला करेगा। हालांकि आरोपी के कबूलनामे के बाद कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं कि मानसिक रूप से विक्षिप्त होने वाली थ्योरी अब खारिज हो जाएगी। उसके बयानों से साफ दिख रहा है कि एक प्लान था और जिसका जिक्र उसने किया भी है। 

मुर्तजा ने  क्या कहा ?

गोरखपुर मंदिर में हमला के आरोपी अब्बास मुर्तजा ने कहा कि उस दिन कि घटना का जिक्र करते हुए कहा कि दोनों सामान लेकर हम टैप्पों में चढ़े। 400-500 रुपये का सामान था। उसने हमसे कहा कि तुम्हें गोरखपुर पहुंचा देंगे। सोच रहा था हम भी चले जाएंगे। थोड़ा हमारा भी काम हो जाएगा। अपने बारे में भी हम सोच रहे थे। बहुत  सारे एंगल से सोच रहे थे। ये क्यों करना है। देखो सीएए-एनआरसी भी हो रहा है। मुर्तजा ने कहा कि कोई काम करने से पहले उसकी वजह भी तो होनी चाहिए। तो मैं खुद को समझा रहा था कि देखों मुसलमानों के साथ जुल्म हो रहा है।  मुर्तजा ने कहा कि मैं सोच रहा था कि अब बदला नहीं लूंगा तो कब लूंगा। 

गौरतलब है कि मुर्तजा अब्बासी ने रविवार की शाम गोरखनाथ मंदिर परिसर में दाखिल होने की कोशिश की थी। जब सुरक्षाकर्मियों ने उसे रोकने का प्रयास किया तो उसने धारदार हथियार से हमला कर पीएसी के दो जवानों को घायल कर दिया था। हालांकि अन्य सुरक्षाकर्मियों ने उसे फौरन पकड़ लिया और हमले में इस्तेमाल किया गया धारदार हथियार जब्त कर लिया था। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने दावा किया कि पकड़ा गया अभियुक्त केमिकल इंजीनियर है और उसने अपने लैपटॉप पर मुस्लिम कट्टरपंथियों के भाषण देखे थे। जांचकर्ताओं ने उसका लैपटॉप और मोबाइल फोन जब्त कर लिया है ताकि डिजिटल सुबूत इकट्ठा किये जा सकें। इस मामले की जांच उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स और एटीएस की संयुक्त टीम कर रही है।  

Source Link

DNSP NEWS

Next Post

संसद में लालू पर बरसे अमित शाह, कहा- गोधरा ट्रेन हादसे को साजिश नहीं बल्कि दुर्घटना बताने की थी कोशिश की

Thu Apr 7 , 2022
नयी दिल्ली। संसद का बजट सत्र चल रहा था। हालांकि इसी दौरान गोधरा कांड का नाम सामने आ गया। अब सवाल ये है कि वर्ष 2002 की घटना का जिक्र आखिरकार अचानक क्यों हुआ? भाजपा सांसद बृजलाल ने आपराधिक प्रक्रिया (पहचान) विधेयक पर एक बहस के दौरान गोधरा मुद्दे का […]

Breaking News