Hijab Controversy: अलकायदा सरगना की तारीफ पर मुस्कान के पिता ने कहा- हम प्रेम एवं भाईचारे के साथ रह रहे हैं

Hijab Controversy: अलकायदा सरगना की तारीफ पर मुस्कान के पिता ने कहा- हम प्रेम एवं भाईचारे के साथ रह रहे हैं
पिछले कुछ समय से देश में हिजाब का मुद्दा काफी सुर्खियों में है। कर्नाटक से शुरू हुआ यह मुद्दा देश के विभिन्न हिस्सों तक पहुंच गया है। इसको लेकर देश में एक समाज के लोगों ने विरोध प्रदर्शन भी किया। इन सबके बीच अपने कॉलेज में हिजाब का विरोध कर रहे छात्रों के एक समूह का मुकाबला करने के लिए कर्नाटक की छात्रा मुस्कान खान का वीडियो खूब वायरल हुआ था। इसी वीडियो को लेकर अलकायदा सरगना अयमान अल जवाहिरी ने उसकी तारीफ की और भारत में लोकतंत्र को निशाना बनाने के लिए कर्नाटक के हालिया हिजाब विवाद का इस्तेमाल करते हुए कहा है कि ‘‘हमें मूर्तिपूजक हिंदू लोकतंत्र की मृगतृष्णा से छले जाने को रोकना होगा।’’ 
 
जवाहिरी के बयान सामने आने के बाद मुस्कान खान के पिता का भी बड़ा वक्तव्य सामने आया है। जवाहिरी के बयान से दूरी बनाते हुए मुस्कान के पिता ने आतंकी संगठन सरगना के बयान को ‘गलत’ करार दिया और कहा कि वह और उनके परिवार के सदस्य भारत में शांतिपूर्वक रह रहे हैं। वीडियो क्लिप के बारे में प्रतिक्रिया व्यक्त करने को कहे जाने पर मोहम्मद हुसैन खान ने कहा कि हम इस (वीडियो) के बारे में कुछ नहीं जानते हैं। हम नहीं जानते कि वह कौन है। मैंने उसे आज पहली बार देख…हम यहां प्रेम एवं भाईचारे के साथ रह रहे हैं। जवाहिरी द्वारा वीडियो में मुस्कान की तारीफ किये जाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘लोग जो चाहें कह सकते हैं…यह अनावश्यक परेशानी पैदा कर रहा है। हम देश में शांतिपूर्वक रह रहे हैं, हम नहीं चाहते कि वह इस बारे में बात करे क्योंकि वह हमसे संबद्ध नहीं है…यह गलत है, यह हमारे बीच विभाजन पैदा करने की कोशिश है।
 
उन्होंने मुस्कान के भी वीडियो देखने का जिक्र करते हुए कहा कि जवाहिरी ने जो कुछ कहा है वह गलत है। मुस्कान के पिता ने कहा कि वह (मुस्कान) अब भी एक छात्रा है, वह पढ़ना चाहती है। किसी संबंध का पता लगाने के लिए जांच कराने की लोगों के एक वर्ग द्वारा की जा रही मांग के बारे में पूछे जाने पर खान ने कहा ऐसा होने दीजिए। उन्होंने कहा कि इसके लिए कानून, पुलिस और सरकार है। इसबीच, कर्नाटक के गृह मंत्री अरगा ज्ञानेंद्र ने कहा कि (अलकायदा सरगना का) वीडियो बयान इस विवाद में अज्ञात तत्वों की संलिप्तता को साबित करता है। अरबी में जारी हुई इस वीडियो क्लिप में, एसआईटीई इंटेलीजेंस ग्रुप ने अंग्रेजी ‘सबटाइटल’ (अनुवाद) उपलब्ध कराया है।

Source Link

DNSP NEWS

Next Post

खुफिया जानकारी जुटाने की तलाश में चीन? लद्दाख के पास पावर ग्रिड में लगाई सेंध

Thu Apr 7 , 2022
चीन की तरफ से भारत के पावर ग्रिड में सेंधमारी कोशिश की गई है। लद्दाख के पास स्थित बिजली वितरण केंद्र चीनी हैकरों के निशाने पर था। दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन इंटेलिजेंस ग्रुप ने इसको लेकर सरकार को सावधान किया। हाल के महीनों में उत्तर भारत के सात स्टेट […]

Breaking News