IT मंत्री अश्विनी वैष्णव का PDP विधेयक को लेकर आश्वासन, कहा- गोपनीयता की रक्षा के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध

आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने मंगलवार को कहा कि, सरकार व्यक्तियों की गोपनीयता की रक्षा के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि, प्रस्तावित डेटा संरक्षण विधेयक गोपनीयता के आसपास के कानूनी ढांचे को और मजबूत करेगा। लेकिन इस विधेयक पर विपक्षी सांसदों ने सवाल उठाए है। विपक्षी की तरफ से व्यक्तिगत डेटा संरक्षण (पीडीपी) विधेयक पर संसद की संयुक्त समिति को असहमति दिया था। वहीं  मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कुछ विपक्षी सांसदों द्वारा उठाई गई चिंताओं पर कोई टिप्पणी नहीं की है।

इसे भी पढ़ें: 2022 में भाजपा जीती तो उत्तर प्रदेश, देश की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा:त्रिवेदी

विधेयक के कुछ प्रावधानों पर उठाई गई चिंताओं के बारे में पूछे जाने पर, मंत्री ने कहा कि, “संसद की संयुक्त समिति ने अपने विचार-विमर्श को पूरा कर लिया है। उन्होंने जोर देकर कहा कि सरकार नागरिकों और निवासियों की गोपनीयता की रक्षा के लिए बहुत प्रतिबद्ध है। उन्होंने तीन दिवसीय कार्यशाला आधार 2.0 के उद्घाटन के मौके पर कहा कि, आधार को लेकर जो चिंताएं पहले उठाई गई थीं, उन्हें पहले ही सावधानीपूर्वक संबोधित किया जा चुका है।
जानिए इस विधेयक के बारे में
पूर्व इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना मंत्री रविशंकर प्रसाद ने देश में डेटा संग्रह और भंडारण प्रक्रियाओं को नियमित करने के उद्देश्य से 2019 में विधेयक पेश किया था। इस बिल में व्यक्ति के डेटा की सुरक्षा के लिए आवश्यक नियम बनाए गए है। यह बिल हर व्यक्ति को अपने डेटा की सुरक्षा का अधिकार देता है, जिसमें कंपनियों की ओर से इस बात की पुष्टि करना भी शामिल है कि उनके डेटा को संसाधित किया गया है या नहीं। विधेयक में एक डेटा संरक्षण समिति के गठन की भी मांग की गई है।

Source Link