मंत्री ईश्वरप्पा के खिलाफ दर्ज हुआ मामला, संतोष पाटिल के भाई ने शव लेने से किया इंकार, कहा- पहले नेता की हो गिरफ्तारी

बेंगलुरू। कर्नाटक के उडुपी में हिंदू वाहिनी के नेशनल सेक्रेटरी और ठेकेदार संतोष पाटिल शव लेने से परिजनों ने इनकार कर दिया है। दरअसल, ठेकेदार संतोष पाटिल मंगलवार को उडुपी के एक होटल के कमरे में मृत पाए गए थे। जिसके बाद से पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। इसी बीच संतोष पाटिल के भाई प्रशांत पाटिल ने कर्नाटक मंत्री केएस ईश्वरप्पा की गिरफ्तारी की मांग करते हुए भाई का शव लेने से इनकार कर दिया। 

इसे भी पढ़ें: हिंदू वाहिनी के नेता होटल में पाए गए मृत, कांग्रेस ने बोम्मई सरकार को घेरा, कहा- मंत्री ईश्वरप्पा को किया जाए गिरफ्तार 

समाचार एजेंसी एएनआई के के मुताबिक, प्रशांत पाटिल ने कहा कि कर्नाटक सरकार में मंत्री केएस ईश्वरप्पा और उनके सहयोगियों बसवराज और रमेश को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। हम अपने भाई के लिए इंसाफ चाहते हैं। जिन लोगों के नाम एफआईआर में दर्ज हैं, जब तक उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जाता तब तक हम अपने भाई का शव नहीं लेंगे।

केएस ईश्वरप्पा की बढ़ी मुश्किलें

कर्नाटक सरकार में मंत्री केएस ईश्वरप्पा की मुश्किलें बढ़ गई हैं। आपको बता दें कि केएस ईश्वरप्पा के ऊपर संतोष पाटिल को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप लगे हैं। जिसके तहत केएस ईश्वरप्पा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इस संबंध में मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि मंत्री के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और हमने सारी जानकारियां एकत्रित कर ली हैं। 

इसे भी पढ़ें: भड़काऊ बयान देने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने के लिए पुलिस को निर्देश दिया गया: बोम्मई 

कांग्रेस ने बनाया दबाव

कांग्रेस ने संतोष पाटिल की मौत मामले में केएस ईश्वरप्पा के इस्तीफे की मांग करते हुए कर्नाटक सरकार पर दबाव बनाने का प्रयास किया। इतना ही नहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने राज्यपाल से भी मुलाकात की है। इस दौरान उन्होंने राज्यपाल से केएस ईश्वरप्पा को बर्खास्त करने और गिरफ्तार किए जाने की आग्रह किया।

Source Link

DNSP NEWS

Next Post

राज ठाकरे की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, आर्म्स एक्ट के तहत दर्ज हो सकता है मुकदमा

Wed Apr 13 , 2022
मुंबई। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक राज ठाकरे के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज हो सकता है। क्योंकि मनसे प्रमुख ने एक जनसभा में तलवार लहराई थी। आपको बता दें कि सार्वजनिक स्थानों पर हथियार […]

Breaking News