National

शराब के शौकीनों की इस समस्या का दिल्ली सरकार ने किया समाधान, ग्राहकों को दी नई सुविधा

दिल्ली में रहने वाले शराब के शौकीन लोगों के लिए एक खुशखबरी है। अब आपको शराब की दुकान ढूंढने में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा, दिल्ली सरकार ने इस समस्या का हल निकाल लिया है। दरअसल दिल्ली में जब से नई आबकारी नीति लागू हुई है तब से ही शराब के शौकीन लोगों को दुकानें ढूंढने में दिक्कत आ रही थी। लेकिन अब दिल्ली सरकार ने लोगों के इस समस्या को दूर कर दिया है। दिल्ली के आबकारी विभाग ने अपनी वेबसाइट पर दुकानों की लिस्ट और पते जारी कर दिए हैं।
घर बैठे ही अब पता कर सकेंगे दुकान का एड्रेस
राज्य में शराब के शौकीन ग्राहक अब नई या पुरानी शराब की दुकानों के बारे में बहुत ही आसानी से पता कर सकेंगे। आपको बता दें फिलहाल दिल्ली में 543 शराब की दुकानें चालू हैं। अगर आप शराब के शौकीन हैं और अपने एरिया के नजदीकी दुकान के बारे में पता करना चाहते हैं तो आपको दिल्ली सरकार की आबकारी विभाग की वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपको लाइसेंस टैब को सेलेक्ट करना होगा। फिर आपको जो कैटेगरी नजर आएगी उसमें प्राइवेट को सेलेक्ट करना होगा। जैसे ही आप प्राइवेट को सिलेक्ट करेंगे वैसे ही आपके स्क्रीन पर सारी 543 दुकानों की सूची और उनके एड्रेस दिखने लगेंगे।
घर बैठे ही जान सकते हैं शराब की कीमत
दिल्ली की आबकारी विभाग की इस वेबसाइट के जरिये शराब की कीमतों के बारे में भी पता लगा सकते हैं। इसके लिए आपको आबकारी विभाग की वेबसाइट पर जाकर प्राइस लिस्ट वाले टैब को चुनना होगा। इसके बाद आप लिकर की कैटेगरी में जाकर टाइप को सिलेक्ट करके देसी या विदेशी शराब के बारें में पता लगा सकते हैं।
दिल्ली में लागू है नई आबकारी नीति
 आपकी जानकारी में यह बात तो होगी ही कि दिल्ली में पिछले साल से नई आबकारी नीति लागू है। इसके तहत दिल्ली में 849 लाइसेंस बाटें गए है। दिल्ली के सभी 373 वार्ड को 32 जोन में बांटा गया है। हर जोन में 27 शराब की दुकानें खुलेंगी। इसी तरह हर एक वार्ड में तीन से चार शराब की दुकानें होंगी। आपकी जानकारी के लिए यह भी बता दें कि नई आबकारी नीति लागू होने के साथ सभी सरकारी ठेके बंद हो गए हैं।
 दिल्ली में जो नई आबकारी नीति लागू की गई है उसमें कई बदलाव किए गए हैं। अब शराब पीने की उम्र को 25 साल से घटाकर 21 साल कर दिया गया है। शराब की दुकानों का साइज बढ़ा दिया गया है। लेकिन नई आबकारी नीति में इस बात का भी प्रावधान है कि अब किसी भी दुकान का काउंटर सड़क की तरफ नहीं होगा। इसके साथ ही नई आबकारी नीति में शराब की होम डिलीवरी की भी इजाजत दे दी गई है। हालांकि शराब की डिलीवरी स्कूल और कॉलेजों में नहीं की जाएगी।

Source Link