National

भारत बायोटेक के प्रमुख कृष्णा एला का महादान, तिरुपति मंदिर ट्रस्ट को दिए दो करोड़ रुपये

भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक कृष्णा एला लगातार सुर्खियों में बने रहते हैं। एक बार फिर से वह सुर्खियों में हैं। दरअसलस कृष्णा एला ने वैकुंठ एकादशी उत्सव के अवसर पर भगवान वेंकटेश्वर की पहाड़ी मंदिर के लिए एसवी अन्ना प्रसाद ट्रस्ट को दो करोड़ रुपये दान दिए हैं। आपको बता दें कि भगवान वेंकटेश्वर की पहाड़ी मंदिर तिरुमाला के पास स्थित है। मंदिर में पूजा अर्चना के बाद कृष्णा एला ने यह दान दिया।
 
भारत बायोटेक के सीएमडी कृष्णा एला के साथ उनकी पत्नी सुचित्रा भी मौजूद थीं। दोनों ने टी-20 के कार्यकारी अधिकारी केएस जवाहर रेड्डी और अध्यक्ष वाईईपी को दो करोड़ रुपए का डिमांड ड्राफ्ट सौंपा। बताया गया कि भक्तों ने टीडीडी के मंदिर द्वारा संचालित तीर्थयात्री मुफ्त भोजन ट्रस्ट के लिए दान राशि का उपयोग करने का अनुरोध किया है। इसे श्री वेंकटेश्वर अन्नप्रसादम ट्रस्ट भी कहा जाता है।
 
आपको बता दें कि भारत बायोटेक ने स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन का निर्माण किया है। कोवैक्सीन फिलहाल कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में काफी मददगार साबित हो रही है। भारत में कोवैक्सीन का उपयोग खूब किया जा रहा है। इसके साथ इसका निर्यात भी किया जा रहा है। भारत बायोटेक ने बुधवार को कहा कि एक अध्ययन से यह प्रदर्शित हुआ है कि कोवैक्सीन की बूस्टर खुराक में कोविड-19 के ओमीक्रोन और डेल्टा स्वरूपों से संक्रमण को रोकने की क्षमता है। भारत बायोटेक ने एक बयान में कहा कि एमोरी यूनिवर्सिटी में किये गये अध्ययन में यह प्रदर्शित हुआ है कि जिन लोगों को कोवैक्सीन (बीबीवी152) की बूस्टर खुराक शुरूआती दो खुराक के छह महीने बाद दी गई ,उनमें सार्स-कोवी-2 के ओमीक्रोन और डेल्टा स्वरूपों के खिलाफ प्रतिरक्षा क्षमता बनती नजर आई।

Source Link