भाजपा नेता व भाई की हत्या में नौ को उम्रकैद Aligarh News

जवां के कासिमपुर पावर हाउस में 11 साल पहले हुई थी हत्या
दोषियों में गौतमबुद्धनगर के तीन बुलंदशहर के पांच व एक अलीगढ़ का

अलीगढ़ः भाजपा नेता यशपाल सिंह चौहान व उनके भाई अनिल चौहान की हत्या में नौ लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। हत्या 11 साल पहले कासिमपुर पावर हाउस में हुई थी। जिला जज डा. बब्बू सारंग की अदालत ने दोषियों पर 50-50 हजार रूपये का जुर्माना भी लगाया है। आधी धनराशि पीडि़त परिवार को देने के आदेश दिए हैं। दोषियों में गौतमबुद्धनगर के दो सगे भाई और बुलंदशहर के चार सगे भाई हैं। यशपाल भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य रहे थे।

डीजीसी धीरेंद्र सिंह तौमर के मुताबिक, तीन मार्च 2011 को हरदुआगंज के बड़ागांव उखलाना निवासी भाजपा के यशपाल सिंह चौहान अपने भाई अनिल व सतीश के अलावा चालक शिवकुमार, प्रदीप, संकेत व पुष्पेंद्र चौहान के साथ कासिमपुर स्थित पंजाब नेशनल बैंक की शाखा में रूपये निकालने गए थे। तभी हमलावरों ने फायरिंग शुरू कर दी। अनिल की मौके पर ही मौत हो गई थी। यशपाल ने जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में दम तोड़ दिया था। संकेत व पुष्पेंद्र भी घायल हुए थे। सतीश सिंह ने रिपोर्ट दर्ज कराई। आरोप था कि कासिमपुर पावर हाउस में ठेकेदारी को लेकर प्रतिस्पर्धा व रंजिश के चलते हत्या की गई।

मंगलवार को अदालत ने नौ आरोपितों को दोषी करार दिया था। बुधवार को गौतमबुद्धनगर के थाना जहांगीरपुरी के परौरी के अशोक रावत, उसके भाई अवनीश (हाल निवासी जवां), बुलंदशहर के थाना पहासू के वनाइल के प्रमोद राघव, उसके भाई अजयपाल उर्फ नेकसे, दिनेश कुमार व सतेंद्र कुमार, गौतमबुद्धनगर के कन्हैरा के कन्हैया (हाल निवासी जवां), बुलंदशहर के थाना पहासू के वनाइल के कमल सिंह, जवां के न्यू कॉलोनी निवासी केशव उर्फ कृष्णकांत को उम्रकैद की सजा सुनाई गई।

Report: Udayveer Singh, Aligarh

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.