रणजी ट्रॉफी 16 नवंबर से, BCCI के घरेलू सत्र के कार्यक्रम में होंगे 2100 से ज्यादा मैच

नयी दिल्ली। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) प्रतिष्ठित रणजी ट्रॉफी के साथ सभी आयु वर्ग के अपने घरेलू टूर्नामेंटों का आयोजन मौजूदा सत्र में करेगा जिसकी घोषणा शनिवार को की गयी। बीसीसीआई के कार्यक्रम में 2021-22 घरेलू सत्र में कुल 2127 मैचों का आयोजन प्रस्तावित है, जिसमें सबसे अहम माने जाने वाले रणजी ट्राफी का आयोजन 16 नवंबर से होगा। कोरोना वायरस महामारी के कारण बीसीसीआई को पिछले सत्र में रणजी ट्रॉफी को रद्द करने के लिए मजबूर होना पड़ा था और उसने इस दौरान किसी भी आयु वर्ग के टूर्नामेंट का आयोजन नहीं किया था। इस साल हालांकि पूर्ण घरेलू सत्र होगा जिसमें सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्राफी का आयोजन 20 अक्टूबर 2021 से होगा और विजय हजारे ट्रॉफी राष्ट्रीय एकदिवसीय चैंपियनशिप 23 फरवरी 2022 से खेली जाएगी।

इसे भी पढ़ें: मलेशिया और चिली करेंगे 2023 पुरुष और महिला जूनियर विश्व कप की मेजबानी

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने यहां जारी मीडिया विज्ञप्ति में कहा, ‘‘ मौजूदा सत्र 21 सितंबर (2021) से सीनियर महिला एकदिवसीय लीग के साथ शुरू होगा और इसके बाद 27 अक्टूबर 2021 से सीनियर महिला एक दिवसीय चैलेंजर ट्रॉफी का आयोजन होगा।’’ सैयद मुश्ताक अली ट्राफी का फाइनल 12 नवंबर 2021 को खेला जाएगा। प्रतिष्ठित रणजी ट्रॉफी का आयोजन 16 नवंबर 2021 से 19 फरवरी 2022 तक होगा। विजय हजारे ट्राफी का फाइनल 26 मार्च को खेला जाएगा। बयान में कहा गया, ‘‘ बीसीसीआई खिलाड़ियों और इसमें शामिल सभी लोगों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को सर्वोपरि रखते हुए घरेलू सत्र की मेजबानी करने को लेकर आश्वस्त है।

Source Link

Leave a Reply