National

डॉक्टर ने मास्क लगाने के लिए टोका तो लड़ पढ़े तहसीलदार, वीडियो हुआ वायरल

भोपाल। मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले के रेलवे स्टेशन पर कोरोना की जांच कर रही महिला डॉक्टर का तहसीलदार से विवाद का एक वीडियो सामने आया है। विवाद का कारण तहसीलदार के द्वारा रेलवे स्टेशन से बाहर निकलते वक्त मास्क ना होना था। महिला डॉक्टर ने आरोप लगाया है कि तहसीलदार से मास्क ना पहनने पर पूछताछ की तो तहसीलदार भड़क गए और धमकी दी।

वहीं रेलवे स्टेशन के सभी डॉक्टर एकजुट होकर विरोध कर जीआरपी थाने पर शिकायत करने पहुंचे। जीआरपी पुलिस ने उनकी शिकायत पर कार्रवाही करने का आश्वासन दिया है। डॉक्टरों ने तहसीलदार की गाड़ी का फोटो खींच लिया है जिस पर आगे प्लेट पर तहसीलदार लिखा हुआ था।

दरअसल ग्वालियर के रेलवे स्टेशन पर कोरोना की जांच को लेकर डॉक्टरों की टीम को लगाया गया है। यंहा डॉक्टर की टीम आने और जाने वाले लोगों की जांच पड़ताल करती है। डॉ ज्योति रेलवे स्टेशन के गेट पर आने जाने वालों की जांच कर रही थी और तभी वहां रेलवे प्लेटफार्म से बिना मास्क के तहसीलदार अपने ड्राइवर के साथ प्लेटफार्म से होते हुए एग्जिट गेट से बाहर निकल रहे थे। जहां उनकी गाड़ी खड़ी हुई थी। डॉक्टर ज्योति ने उन्हें रोक लिया।

जिसके बाद मास्क ना पहने होने पर उनसे पूछताछ की तो फिर क्या था तहसीलदार साहब भड़क गए। गुस्से में आए तहसीलदार ने महिला डॉक्टर के साथ विवाद करने लगे। वहीं महिला डॉक्टर का आरोप हैं कि तहसीलदार ने बदसलूकी करते हुए धमकी दी कि वह तहसीलदार हैं और उस डॉक्टर को देख लेंगे। और बिना अपनी गलती मानते हुए तहसीलदार ड्राइवर के साथ निकल गए।

आपको बता दें कि तहसीलदार की अभद्रता के कारण सभी डॉक्टर एकजुट हो गए। जहां इस तरह तहसीलदार का व्यवहार से डॉक्टरों में आक्रोश पैदा हो गया और वहां सीधे जीआरपी थाने जा पहुंचे। जहां उन्होंने तहसीलदार के खिलाफ शिकायत की। वही पुलिस ने डॉक्टरों की शिकायत पर तहसीलदार के खिलाफ कार्रवाही करने का आश्वासन दिया है।

इस मामले को लेकर जीआरपी डीएसपी शोभा श्रीवास्तव ने कहा है कि डॉक्टरों की टीम ने शासकीय कर्मचारी के खिलाफ शिकायत का आवेदन दिया है। इस मामले में सीसीटीवी फुटेज निकाले गए हैं। जिसने यह जानकारी जुटाने की कोशिश की जा रही है यह तहसीलदार कौन था और क्या नाम है। जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे उन पर कार्रवाही की जाएगी।

Source Link