National

कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक… पूरे देश में 15-18 आयुवर्ग के बच्चों का टीकाकरण अभियान शुरू

देश में 15 से 18 आयुवर्ग के बच्चों को सोमवार से कोविड-19 रोधी टीकों की खुराक दी जानी शुरू कर दी गई है। कोरोना वायरस संक्रमण के नए स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ के बढ़ते प्रकोप के बीच इस आयुवर्ग के बच्चों का टीकाकरण शुरू किया गया है और पहले ही दिन कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक टीकाकरण केंद्रों में टीनएजर्स की जो भीड़ उमड़ रही है वह दर्शाती है कि लोग कैसे जल्द से जल्द सुरक्षा कवच हासिल कर लेना चाहते हैं। हम आपको बता दें कि केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 27 दिसंबर को दिशानिर्देश जारी करते हुए कहा था कि इस आयुवर्ग के बच्चों को केवल कोविड-19 रोधी ‘कोवैक्सीन’ टीके की खुराक दी जाएगी।

इसे भी पढ़ें: उपराज्याल सिन्हा ने जम्मू-कश्मीर में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा की

जम्मू और कश्मीर में 15-18 आयु वर्ग के लिए COVID-19 टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद, प्रशासन ने पूरे केंद्र शासित प्रदेश में 1000 से अधिक टीकाकरण स्थल स्थापित किए हैं और अभियान के सुचारू संचालन के लिए सभी आवश्यक तैयारी की है। निदेशक (परिवार कल्याण) एमसीएच और टीकाकरण डॉ. सलीम उर रहमान, जो निदेशक स्वास्थ्य सेवा (जम्मू) का अतिरिक्त प्रभार भी संभाल रहे हैं, उन्होंने कश्मीर क्षेत्र में 561 और जम्मू क्षेत्र में 459 टीकाकरण स्थल स्थापित किए हैं। उन्होंने कहा कि इनमें से अधिकतर टीकाकरण स्थल सरकारी स्कूलों में स्थापित किए गए हैं जहां निर्दिष्ट आयु वर्ग में आने वाले बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ये टीकाकरण केंद्र स्कूल शिक्षा विभाग के समन्वय से सभी जिलों में जिला, अंचल और प्रखंड स्तर पर स्थापित किए गए हैं।
हथियारों, मादक पदार्थ की खेप जब्त
सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास से सोमवार को हथियारों और मादक पदार्थ हेरोइन की खेप जब्त की। अधिकारियों ने बताया कि यह खेप चमलियाल सीमा चौकी के पास सरकंडा (जंगली घास) में छिपे एक सफेद रंग के बोरे मे मिली। अधिकारियों ने बताया कि बोरे से पांच मैगजीन, तीन एके राइफल, सात गोलियों के साथ चार पिस्तौल, पांच पैकेट हेरोइन और कुछ गोला बारूद मिला है। उन्होंने बताया कि गश्त के दौरान बल ने बोरे को देखा, जिस पर ‘‘कराची फर्टिलाइजर्स कम्पनी लिमिटेड’’ लिखा था। अधिकारियों ने बताया कि अभी तत्काल यह पता नहीं चल पाया है कि खेप को ड्रोन द्वारा गिराया गया या सीमा पार से हथियारों तथा मादक पदार्थों के तस्करों द्वारा इसे यहां लाया गया था।

इसे भी पढ़ें: सेना ने जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में घुसपैठिये को किया ढेर

बीएसएफ ने की गोलीबारी
इस बीच, जम्मू जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर एक संदिग्ध घुसपैठिए की गतिविधियों का पता चलने के बाद सोमवार को सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने गोलीबारी की। बल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सैनिकों को तड़के अरनिया सेक्टर के मोलू इलाके में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान से संदिग्ध घुसपैठिए की गतिविधियों का पता लगा और उन्होंने उस तरफ गोलीबारी की। उन्होंने कहा कि इलाके में तलाश अभियान चलाया जा रहा है।

Source Link