योगी सरकार में UP हुआ दंगामुक्त, अपराधी प्रदेश छोड़ने के लिए हुए मजबूर: जेपी नड्डा

लखनऊ। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शनिवार को ‘बूथ विजय अभियान’ की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि आज मुझे बूथ विजय अभियान में आप सबके साथ शामिल होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। मैं अपनी ओर से और पार्टी की ओर से आप सबका धन्यवाद करता हूं। 

जेपी नड्डा ने कहा कि मैं विश्व के लोकप्रिय नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अभिनंदन करता हूं, जिन्होंने उत्तर प्रदेश की महान संस्कृतिक विरासत और आध्यात्मिक समृद्धि को अक्षुण्ण रखते हुए इसके संरक्षण, संवर्धन के लिए अथक प्रयास किए हैं।

नड्डा ने वाजपेयी का किया जिक्र 

उन्होंने कहा कि मैं भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी का भी उल्लेख करना चाहूंगा, जिनका संबंध उत्तर प्रदेश से रहा, उन्होंने देश और दुनिया को राजनीति के एक नए संस्कार से जोड़ते हुए महान भारत देश की सेवा की। मैं ऐसी महान विभूति को भी नमन करता हूं। 

जेपी नड्डा ने कहा कि हमारे लिए गौरव की बात है कि प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व देश में जातिवाद, परिवारवाद, वंशवाद और सम्प्रदायवाद की राजनीति का अंत हुआ है और विकास की राजनीति प्रतिष्ठित हुई है।  

UP जनता का मिला समर्थन 

उन्होंने कहा कि मोदी जी के नेतृत्व में 2017 में भाजपा ने 325 सीटे जीतकर इतिहास रचा था। 2014 और 2019 में लोकसभा चुनाव में भी उत्तर प्रदेश की जनता ने विकास की राजनीति को अपना समर्थन दिया था। उन्होंने कहा कि भाजपा संघर्ष से समाधान की यात्रा से बनी है। पार्टी के कार्यकर्ता ही हमारी ताकत है, हम बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं के बल पर यहां तक पहुंचे हैं। हमारे हर कार्यक्रमों को सफल बनाने के लिए बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं की सबसे बड़ी भूमिका होती है।

UP सरकार को मिलेगा आशीर्वाद !

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मुझे खुशी भी है और पूर्ण विश्वास भी है कि उत्तर प्रदेश की जनता का भरपूर आशीर्वाद योगी आदित्यनाथ की सरकार को मिलेगा। जनता के आशीर्वाद से उत्तर प्रदेश में पुनः प्रचंड बहुमत के साथ भाजपा की सरकार बनना तय है। 

उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश दंगामुक्त हुआ है और अपराधी प्रदेश छोड़ने के लिए मजबूर हुए हैं।  

कांग्रेस पर बरसे नड्डा 

जेपी नड्डा ने कहा कि एक समय था जब यूपी में भगवान श्रीराम का नाम लेना भी दुर्भर हो गया था, भगवान राम के सेवकों पर गोलियां चलाई गई थी। कांग्रेस ने तो भगवान राम के अस्तित्व को मानने से ही इनकार कर दिया था। सपा, बसपा और कांग्रेस सुविधा की राजनीति करने लगे हैं। आज 500 वर्षों के बाद अयोध्या में रामलला जन्मभूमि का भव्य निर्माण का काम प्रशस्त हुआ है तो नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हुआ है।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply