लखीमपुर की घटना की कड़ी निंदा किया जाना महाराष्ट्र में छापेमारी का कारण हो सकता है: पवार

पुणे| राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने बृहस्पतिवार को कहा कि उनके भतीजे अजित पवार के परिवार से जुड़ी विभिन्न कंपनियों पर आयकर विभाग की छापेमारी उनके और महाराष्ट्र सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा की कड़ी निंदा किए जाने पर केन्द्र की प्रतिक्रिया हो सकती है।

पवार ने अपने गृह क्षेत्र बारामती में पत्रकारों से यह भी कहा कि जिन लोगों का वित्तीय लेन-देन से कोई लेना-देना नहीं है, उनसे पूछताछ करना ताकत का अत्यधिक उपयोग है। उन्होंने लोगों से यह तय करने का आग्रह किया कि वे इसे कब तक बर्दाश्त करेंगे।

उन्होंने कहा कि राज्य में आयकर छापेमारी केंद्र सरकार की प्रतिक्रिया है।
पवार ने कहा, मैंने यूपी (लखीमपुर खीरी) की घटना की कड़ी निंदा की है, जहां किसान मारे गए हैं। मैंने इसकी तुलना जलियांवाला बाग हत्याकांड से भी की थी। साथ ही, राज्य सरकार ने अपनी कैबिनेट बैठक में इसकी निंदा की है … इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि राज्य में विभिन्न कंपनियों के खिलाफ आईटी विभाग की कार्रवाई यूपी की घटना को लेकर हमारी ओर से कड़ी निंदा किए जाने की प्रतिक्रिया है।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply