National

पंजाब में ओमीक्रोन से संक्रमण का पहला मामला सामने आया, नहीं लगेगा नाइट कर्फ्यू

चंडीगढ़। पंजाब में कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप से संक्रमण का पहला मामला सामने आया है। इस महीने 36 वर्षीय एक व्यक्ति स्पेन से राज्य में आया था जिसके नमूने की जांच में वायरस के इस स्वरूप की पुष्टि हुई है।
इस बीच, पंजाब के उपमुख्यमंत्री ओ पी सोनी ने कहा कि राज्य में कोविड-19 की मौजूदा स्थिति के मद्देनजर फिलहाल रात्रि कर्फ्यू की आवश्यकता नहीं है।
स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि उक्त व्यक्ति चार दिसंबर को भारत पहुंचा था और पंजाब के नवांशहर में अपने रिश्तेदारों के यहां गया था। अधिकारी ने कहा कि भारत पहुंचने के बाद व्यक्ति की जांच में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई थी।

लेकिन 12 दिसंबर को उसकी जांच में संक्रमण पाया गया। इसके बाद संक्रमित व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती किया गया और उसके नमूनों को जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए पटियाला के सरकारी मेडिकल कॉलेज में भेजा गया।
कोविड-19 के लिए राज्य निगरानी अधिकारी डॉ राजीव भास्कर ने कहा, “28 दिसंबर को आई जीनोम सिक्वेंसिंग की रिपोर्ट में उसके ओमीक्रोन से संक्रमित होने की पुष्टि हुई।”
अधिकारी ने कहा कि 25 दिसंबर को व्यक्ति की पुनः जांच हुई जिसमें संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई। इसके बाद व्यक्ति को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।
पंजाब में कोविड की स्थिति का जायजा लेने के लिए स्वास्थ्य विभाग की बैठक की अध्यक्षता करने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए उपमुख्यमंत्री सोनी ने कहा कि सरकार की फिलहाल रात में कर्फ्यू लगाने की कोई योजना नहीं है।
राज्य के स्वास्थ्य मंत्रालय का भी कार्यभार संभालने वाले सोनी ने अधिकारियों को जांच की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए हैं।

Source Link