9/11 हमले पर बोले PM मोदी, …इसी तारीख ने पूरे विश्व को काफी कुछ सिखाया भी है

नयी दिल्ली। अमेरिका 9/11 हमले की 20वीं बरसी मना रहा है। इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से गुजरात में सरदारधाम भवन का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने 9/11 हमले को लेकर बयान दिया। उन्होंने कहा कि आज 11 सितंबर यानी 9/11 है। दुनिया के इतिहास की एक ऐसी तारीख जिसे मानवता पर प्रहार के लिए जाना जाता है। लेकिन इसी तारीख ने पूरे विश्व को काफी कुछ सिखाया भी! एक सदी पहले ये 11 सितंबर 1893 का ही दिन था जब शिकागो में विश्व धर्म संसद का आयोजन हुआ था। 

स्वामी विवेकानंद ने दिया था भाषण 

पीएम मोदी ने कहा कि आज के ही दिन स्वामी विवेकानंद ने उस वैश्विक मंच पर खड़े होकर दुनिया को भारत के मानवीय मूल्यों से परिचित कराया था। आज दुनिया ये महसूस कर रही है कि 9/11 जैसी त्रासदियों का स्थायी समाधान, मानवता के इन्हीं मूल्यों से ही होगा। 

सरकार भवन का हुआ लोकार्पण 

पीएम मोदी ने कहा कि किसी भी शुभ काम से पहले हमारे यहां गणेश पूजन की परम्परा है। सौभाग्य से सरदार धाम भवन का श्रीगणेश ही गणेश पूजन त्योहर के पवित्र अवसर पर हो रहा है। कल गणेश चतुर्थी थी, आज पूरा देश गणेश उत्सव मना रहा है। मैं आप सभी को दोनों उत्सवों की बधाई देता हूं।

उन्होंने कहा कि हमारे प्रेरणास्रोत लौह पुरुष सरदार साहब के चरणों में भी मैं प्रणाम कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। सरदार धाम के सभी सदस्यों को भी बधाई, जिन्होंने अपने समर्पण से सेवा के इस अद्भूत प्रकल्प को आकार दिया है। उन्होंने कहा कि पाटीदार समाज के युवाओं के साथ-साथ गरीबों और विशेषकर महिलाओं के सशक्तिकरण पर आपका जो जोर है वो वाकई सराहनीय है। हॉस्टल की सुविधा भी कितनी ही बेटियों को आगे आने में मदद करेगी। 

सुब्रमण्य भारती चेयर होगी स्थापित

 इसी बीच पीएम मोदी ने कहा कि सुब्रमण्य भारती जी हमेशा भारत की एकता पर, मानवमात्र की एकता पर विशेष बल देते थें। उनका ये आदर्श भारत के विचार और दर्शन का अभिन्न हिस्सा है। आज इस अवसर पर मैं एक महत्वपूर्ण घोषणा भी कर रहा हूं। बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में सुब्रमण्य भारती जी के नाम से एक चेयर स्थापित करने का निर्णय लिया गया है। तमिल अध्ययन पर ‘सुब्रमण्य भारती चेयर’ बीएचयू के फेकल्टी ऑफ आर्ट्स में स्थापित होगी। 

देश मना रहा आजादी का अमृत महोत्सव 

पीएम मोदी ने कहा कि जब हम समाज के लिए कोई संकल्प लेते हैं तो उसकी सिद्धि के लिए समाज ही हमें सामर्थ्य देता है। इसलिए आज हम ऐसे कालखंड में जब हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं तो देश ने सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के साथ-साथ सबका प्रयास का मंत्र दिया है। 

उन्होंने कहा कि समाज के जो वर्ग, जो लोग पीछे छूट गए हैं, उन्हें आगे लाने के लिए सतत प्रयास हो रहे हैं। आज एक ओर दलितों पिछड़ों के अधिकारों के लिए काम हो रहा है, तो वहीं आर्थिक आधार पर पिछड़ गए लोगों को भी 10 फीसदी आरक्षण दिया गया है। 

यहां सुने PM मोदी का पूरा संबोधन:- 

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply