बख्तियारपुर की बात पर भड़के नीतीश कुमार, कहा- नहीं बदलेंगे नाम, यह मेरा जन्म स्थान है

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार आने के बाद कई स्थानों के नाम बदले गए। इसके अलावा भाजपा शासित राज्यों में भी कई ऐसे नाम है जिसको बदला गया। बिहार में भी अब नाम बदलने की मांग शुरू हो गई है। इन दिनों बिहार की राजनीतिक गलियारों में इस बात की चर्चा खूब है कि बख्तियारपुर स्टेशन का नाम बदलने के लिए भाजपा के राज्यसभा सांसद गोपाल नारायण सिंह में मांग की है। स्थानीय लोग भी यह कहते हैं कि जिस बख्तियार खिलजी ने नालंदा विश्वविद्यालय को नष्ट किया, उसके नाम पर बख्तियारपुर स्टेशन का नाम रखना तकलीफ देता है। लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की राय इस पर अलग है।

इसको लेकर जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल किया गया तो वह भड़क गए। उन्होंने स्पष्ट कहा कि बख्तियारपुर का नाम क्यों बदलेंगे? यह सब बिना मतलब की बात है। थोड़ा झल्लाते हुए उन्होंने कहा कि बख्तियारपुर का नाम बदलने की मांग फालतू है। हालांकि खुद पर कंट्रोल करते हुए उन्होंने आगे कहा कि यह मेरा जन्म स्थान है। इस बार यही के व्यक्ति ने नालंदा विश्वविद्यालय को नए सिरे से बनाने का काम शुरू कर दिया है। इस जगह को लेकर लोग बिना मतलब का बात कर रहे हैं इसलिए नाम नहीं बदला जाएगा।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply