न जनता के मुद्दों की समझ न सरोकार, बस हवाई दावों की सरकार, योगी सरकार पर प्रियंका का वार

 

रायबरेली/अमेठी/लखनऊ (उप्र)। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर संगठन की लगातार बैठकें कर रहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी रविवार को दो दिवसीय दौरे पर रायबरेली पहुंचीं। उन्होंने योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य सरकार को ‘‘न जनता के मुद्दों की समझ है और न ही उनसे कोई सरोकार है, यह बस झूठे विज्ञापन और हवाई दावों की सरकार है।’’ कांग्रेस महासचिव एवं उत्तर प्रदेश मामलों की पार्टी प्रभारी प्रियंका बृहस्पतिवार की शाम उत्तर प्रदेश के दौरे पर आयी थीं और रविवार को वह कांग्रेस अध्यक्ष एवं अपनी मां सोनिया गांधी के निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली पहुंचीं तथा अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाया।

इसे भी पढ़ें: सिद्धू ने CM अमरिंदर सिंह को लिखा पत्र, किसानों की मांगों पर काम करने का आग्रह किया

प्रियंका ने फेसबुक और ट्विटर के माध्यम से योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधते हुए तीखा प्रहार किया। उन्होंने फेसबुक पर अपने पोस्ट में लिखा, ‘‘पहले रोजगार के झूठे विज्ञापन देते पकड़े गए। अब इनके फ्लाईओवर व फैक्‍टरी की झूठी तस्वीरों वाले विज्ञापन की कलई खुल गई। उत्तर प्रदेश की जनता इनकी हवाई बातों की हकीकत समझ चुकी है और उत्तर प्रदेश में जनता सरकार तथा मुख्यमंत्री बदलने जा रही है।’’ प्रियंका ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘इनका (राज्य सरकार) काम ही है झूठे विज्ञापन देना। फर्जी लेखपाल बनाकर उत्तर प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने का झूठ बोला और अब फ्लाईओवर तथा फैक्टरियों की फर्जी तस्वीरें लगाकर विकास के झूठे दावे कर रहे ह‍ैं। न जनता के मुद्दों की समझ है और न ही उनसे कोई सरोकार है, बस झूठे विज्ञापन और हवाई दावों की सरकार है।’’

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा बड़े जनादेश से सरकार बनाएगी: ए के शर्मा

वहीं, कांग्रेस के एक नेता ने पीटीआई-को बताया कि पार्टी महासचिव ने कार्यकर्ताओं से मुलाकात के दौरान उन्हें बताया कि पार्टी इस बार उम्मीदवारों की सही समय पर घोषणा करने की योजना बना रही है। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के जमाने से गांधी परिवार का गढ़ रहे रायबरेली संसदीय क्षेत्र में पांच विधानसभा क्षेत्र हैं, जिनमें हरचंदपुर, रायबरेली, बछरावां, सरेनी और ऊंचाहार क्षेत्र आते हैं। इनमें 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को दो, भाजपा को दो और समाजवादी पार्टी को एक सीट मिली थी। 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस उत्तर प्रदेश में सात सीटों पर सिमट गई थी। तब अमेठी संसदीय क्षेत्र में चार विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा और एक में सपा जीती थी और कांग्रेस एक भी विधानसभा सीट नहीं जीत पाई थी। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से कांग्रेस नेता राहुल गांधी अमेठी संसदीय क्षेत्र में पराजित हो गए थे।

कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि दो दिवसीय दौरे पर रायबरेली पहुंचीं प्रियंका ने सबसे पहले चुरुवा बॉर्डर पर हनुमान मंदिर में पूजा-अर्चना की। उसके बाद बछरावां, हरचंदपुर, सिविल लाइन तथा जगदीशपुर गांव में कार्यकर्ताओं ने फूल मालाओं से उनका स्वागत किया। उन्होंने बताया कि प्रियंका ने सांगठनिक बैठकों में हिस्सा लेकर कार्यकर्ताओं को विधानसभा चुनाव के लिए कठिन परिश्रम का मंत्र दिया। रायबरेली की बैठक के बाद प्रियंका देर शाम करीब आठ बजे अमेठी केतिलोई विधानसभा क्षेत्र के डोडरपुर गांव में पहुंचीं जहां दीवार गिरने से पिछले दिनों तीन बच्‍चों की मौत हो गई थी। उन्होंने पीड़ित परिवार से मिलकर संवेदना प्रकट की और परिजनों को हर संभव मदद का भरोसा दिया।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply