MP में फिर हुई पुलिस कस्टडी में आरोपी की मौत, गृह मंत्री ने किया पुलिसकर्मियों को निलंबित

भोपाल। मध्य प्रदेश के खरगोन जिले के बिष्ठान के बाद खंडवा में भी पुलिस हिरासत में एक कैदी के मौत का मामला सामने आया है। बाइक चोरी के आरोपी की पुलिस हिरासत में संग्दिग्ध मौत हो गई। इस मामले को लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने TI गणपतलाल कनेल, SI मायाराम समेत दो कांस्टेबल को निलंबित कर न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं।

इसे भी पढ़ें:भोपाल में फर्जी टीसी के कारनामों से रेलवे हुआ हैरान , पैसे उड़ाते हुए वीडियो हुआ सोशल मीडिया पर वायरल 

आपको बता दें कि खंडवा में बाइक चोरी के आरोपी की पुलिस हिरासत में मौत का मामला सामने आया है। शिकायत के बाद ओंकारेश्वर थाने की पुलिस सोमवार को आरोपी को थाने लाई थी। पूछताछ के बाद रात में उसकी हालत बिगड़ी और अस्पताल में उसने दम तोड़ दिया।

खरगोन के बेड़ियाव थाना क्षेत्र निवासी किशन मानकर को बाइक चोरी के आरोप में सोमवार को पुलिस पकड़कर थाने लाई थी। आरोपी से बाइक भी बरामद कर ली थी। नामजद आरोपी होने के चलते पुलिस ने उससे पूछताछ की, जिसके बाद उसे खाना दिया। रात में उसे घबराहट होने लगी। और उसे ओंकारेश्वर के सरकारी अस्पताल ले गई जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

इसे भी पढ़ें:MP में फिर हुई एक पुजारी की हत्या, पुलिस कर रही है कार्यवाही 

इस मामले के बाद गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर बताया कि खंडवा जिले के ओंकारेश्वर थाने में आरोपी किशन मानकर की संदिग्ध मौत का मामला सामने आया है। किशन को भाई और अन्य साथियों के साथ मोटरसाइकिल चोरी के आरोप में थाने लाया गया था। किशन के भाई का कहना है कि उसे सांस की बीमारी थी, लेकिन मृत्यु का असल कारण PM रिपोर्ट के आने के बाद पता चलेगा।

दरअसल इस मामले से पहले भी TI गणपतलाल कनेल एक अन्य मामले में निलंबित हो चुके हैं। उन्हें मांधाता थाने की जिम्मेदारी मिले अभी एक सप्ताह भी नहीं हुआ और एक पर फिर वह निलंबित हो गए। इस मामले से से पहले TI कनेल छैगांव थाने में पदस्थ थे। कोरोना काल के दौरान उनके थाना क्षेत्र में एक कोरोना पीड़ित को घर से अस्पताल पहुंचने को लेकर उनपर मारपीट का आरोप लगा था।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply