MP में थर-थर कापेंगे गुंडे और माफिया, यूपी से भी सख्त बनेगा गैंगस्टर एक्ट

भोपाल। मध्य प्रदेश में अब गुंडें और माफिया पर शिकंजा कसने के लिए सूबे की शिवराज सरकार उत्तर प्रदेश की तर्ज पर गैंगस्टर एक्ट लाने जा रही है। सरकार का मानना है कि यूपी में गुंडा नियंत्रण अधिनियम लागू होने के बाद से अपराधियों पर लगाम लगी है। और इसीलिए अब मध्यप्रदेश में भी गैंगस्टर एक्ट लाकर संगठित अपराधियों पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी। जिससे प्रदेश में अपराध के ग्राफ को कंट्रोल किया सके।

इसे भी पढ़ें:ओबीसी आरक्षण को लेकर कांग्रेस निकालेगी आभार यात्रा,मंत्री ने कहा – बेगानी शादी में अब्दुल्ला दीवाना हैं 

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के गैंगस्टर एक्ट में भी उत्तर प्रदेश के गुंडा नियंत्रण अधिनियम जैसे प्रावधान किए जाएंगे। बताया जा रहा है कि इस एक्ट के लागू होने के बाद मध्य प्रदेश पुलिस के अधिकार में बढोत्तरी की जाएगी। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने प्रदेश में गैंगस्टर एक्ट जल्द बनाने की पुष्टि की है।

दरअसल गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जहरीली शराब व खनिज माफिया पर त्वरित कार्रवाई के लिए और इसके साथ ही प्रदेश सरकार संगठित अपराधों को रोकने के लिए बहुत जल्द गैंगस्टर एक्ट लेकर आ रही है। उन्होंने कहा कि समाज विरोधी गतिविधियों में लिप्त अपराधियों व संगठित अपराध की श्रेणी में आने वाले जहरीली शराब व खनिज माफिया जैसे अन्य अपराधियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई के लिए यह कानून बनाया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें:मध्यप्रदेश के बीजेपी प्रभारी ने सीनियर नेताओं को लेकर दिया बयान, कहा – जिन्हें नहीं मिली है जगह वे सब है नालायक 

मंत्री ने जानकारी देते हुए कहा कि इस अधिनियम के लागू होने के बाद पुलिस रिमांड और न्यायिक रिमांड में भी बढ़ोत्तरी की जा सकेगी। वही प्रदेश में मिलावटी शराब, नकली दवा और अवैध रेत खनन सहित अन्य संगठित अपराधों पर त्वरित कार्यवाही की जा सकेगी।

उन्होंने कहा कि इस अधिनियम के बाद न्यायालय को अपराधियों पर चल रहे अन्य न्यायालयों में प्राथमिकता मिलेगी। इसके साथ ही अपराधी न्यायालय से तभी राहत पा सकेगा जब यह साबित हो सकेगा कि वह अपराध का दोषी नहीं है और आगे भी इस तरह के अपराध में संलिप्त नहीं होगा। इसके साथ ही अपराधियों को न्यायालय से जमानत भी नहीं मिल सकेगी।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply