National

दिल्ली में बंदूक के दम पर 50 लाख लूटा, 27 साल का आरोपी गिरफ्तार

नयी दिल्ली। दिल्ली में एक व्यवसायी के दो कर्मचारियों से 50 लाख रुपये लूटने के आरोप में 27 वर्षीय एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी।
पुलिस के मुताबिक दिल्ली के ही कराला इलाके का रहने वाला आरोपी मनप्रीत सैनी (27) लूटपाट और झपटमारी समेत 25 से अधिक मामलों में शामिल रहा है। पुलिस लूटपाट की ताजा वारदात में शामिल उसके दो साथियों को तलाश कर रही है।
पुलिस के मुताबिक, यह घटना 27 दिसंबर को पश्चिम दिल्ली के तिलक नगर इलाके में हुई, जब लक्की मेहरा और हरविंदर सिंह को उनके नियोक्ता ने किसी कारोबारी से 50 लाख रुपये लेने के लिए विकास पुरी भेजा था।
पुलिस के मुताबिक, दोनों 50 लाख रुपये की नकदी लेने के बाद स्कूटर पर अपने कार्यालय की ओर चल दिए। जब वे तिलक नगर फ्लाईओवर के पास पहुंचे तो मोटरसाइकिल पर सवार दो लोगों ने उन्हें रोका और नकदी से भरा बैग छीनने की कोशिश की। लक्की और हरविंदर ने विरोध किया तो आरोपियों ने हवा में दो गोलियां चलाईं और हेलमेट से उनकी पिटाई कर दी।
पुलिस के मुताबिक, आरोपियों ने उन्हें चाकू दिखाकर धमकाया और रुपयों से भरा बैग लेकर फरार हो गए। इस घटना के बाद तिलक नगर थाने में मामला दर्ज किया गया।

उत्तरी-बाहरी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त बृजेन्द्र कुमार यादव ने कहा, ‘‘पुलिस कर्मियों को लूट के मामले में एक आरोपी के शामिल होने के बारे में कुछ जानकारी मिली। हमने एक टीम बनाई और एक गुप्त सूचना के आधार पर, हमें पता चला कि आरोपी अपने मोबाइल नंबर बार-बार बदल रहे थे और अंतरराष्ट्रीय नंबरों का उपयोग कर रहे थे। हालांकि, वह भी बार-बार बदला जा रहा था।’’
पुलिस उपायुक्त के मुताबिक, टीम ने एक आरोपी को खोजा और तकनीकी रूप से उसकी गतिविधियों का पता लगाया। उसे रोहिणी के सेक्टर-25 इलाके से उस वक्त पकड़ा गया, जब वह अपने एक दोस्त से मिलने वाला था।
पूछताछ में पता चला कि गिरफ्तार आरोपी को उसके दो साथियों सुभाष और प्रदीप के साथ व्यवसायी के एक कर्मचारी से सूचना मिली कि विकास पुरी क्षेत्र से व्यवसायी को मोटी रकम मिलनी है।
इसके बाद आरोपी ने अपने सहयोगियों के साथ उस स्थान की रेकी की, जहां से लक्की और हरविंदर द्वारा 50 लाख रुपये एकत्र किए जाने थे। घटना वाले दिन प्रमुख आरोपी के दो साथी मोटरसाइकिल पर सवार होकर विकास पुरी से ही लक्की और हरविंदर का पीछा करने लगे। सुभाष और प्रदीप लूटपाट करने के बाद वहां से फरार हो गए।
पुलिस के मुताबिक, प्रमुख आरोपी मनप्रीत करीब एक किलोमीटर की दूरी पर कार में सुभाष और प्रदीप का इंतजार कर रहा था। इसके बाद दोनों मोटरसाइकिल छोड़कर मनप्रीत के साथ कार में फरार हो गए।

Source Link