National

गहलोत बोले- देश में आज दो ही लोग राज कर रहे है, सिर्फ दो चेहरे है…मोदी और अमित शाह

जयपुर। गृह मंत्री अमित शाह द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए कथि तौर पर इस्तेमाल किए गये शब्दों के बारे मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के दावे पर प्रतिक्रिया जताते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को कहा कि यह उनके बीच एक तरह की आपसी सहमति (अंडरस्टेंडिंग) है। गहलोत ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि अमित शाह प्रधानमंत्री के लिए ऐसी का इस्तेमाल कर सकते हैं। देश में आज दो ही लोग राज कर रहे हैं। सिर्फ दो चेहरे है .. मोदी और अमित शाह.. अगर उन्होंने इस तरह के शब्द बोले हैं तो यह एक तरह की आपसी सहमति (अंडरस्टेंडिंग) है।’’   

  मीडिया की खबरों के अनुसार मलिक ने कथित तौर पर कहा है कि जब वह किसानों के मुद्दे पर प्रधानमंत्री से मिलने गये थे तो वह (मोदी) ‘घमंड में’ थे और पांच मिनट में उनका झगड़ा हो गया। मलिक ने कथित तौर पर यह भी कहा कि जब वह गृह मंत्री अमित शाह से मिले तो उन्होंने कहा ‘‘लोगों ने उनकी (मोदी की) अकल खराब कर रखी है।’’ भाजपा पर देश में विपक्ष को खत्म करने का प्रयास करने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री गहलोत ने सवाल किया कि क्या उच्चतम न्यायालय को पेगासस और चुनावी बांड जैसे मुद्दों पर अपनी प्राथमिकताएं तय नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार एजेंसियों का दुरूपयोग करके धमकाने के लिये छापेमारी करती है। उन्होंने कहा, ‘‘क्या उच्चतम न्यायालय को पेगासस और चुनावी बांड जैसे मुद्दों में प्राथमिकताएं तय नहीं करनी चाहिए? देश में लगभग 98 प्रतिशत वित्तपोषण भाजपा को जा रहा है और बाकी अन्य राजनीतिक दलों को जा रहा है। राजनीतिक दल बर्बाद हो रहे है।’’ गहलोत ने सवाल किया जब देश में विपक्ष नहीं होगा तो देश कैसे चलेगा। उन्होंने कहा कि ‘‘यहां तक कि भाजपा के कुछ लोग भी कह रहे हैं कि देश में विपक्ष मजबूत रहना चाहिए।’’  

   एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की राजस्थान में राजनीतिक अवसर तलाशने पर गहलोत ने कहा कि वह भाजपा के ‘‘साझेदार’’ थे और वह जो भी बोलेंगे भाजपा के खाते में जायेगा। जयपुर के पिंकसिटी प्रेस क्लब में एक कार्यक्रम में गहलोत ने कहा कि ‘‘जनता उन्हें समझ चुकी है। वह भाजपा के साझेदार है।’’ गहलोत ने कहा कि लोगों को देश में कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा हिंदू और हिंदुत्ववादी के मुद्दे पर शुरू की गई बहस को समझने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि धर्म के आधार पर राष्ट्र का निर्माण अधिक समय तक नहीं चलता। उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास पाकिस्तान का उदाहरण है, जो धर्म के आधार पर बनाया गया था, लेकिन बाद में इसे दो राष्ट्रों में विभाजित कर दिया गया था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जो लोग हिन्दू राष्ट्र की बात कर रहे हैं, वे सिर्फ लोगों को गुमराह कर रहे हैं। वे सत्ता में आने में सफल रहे हैं लेकिन लोगों को फैसला करना होगा कि सच के साथ कौन है।’’ उन्होंने कहा कि भाजपा हमेशा कांग्रेस में नंबर एक पर हमला करती है ताकि पूरी पार्टी को गिराया जा सके लेकिन जो कांग्रेस मुक्त भारत की बात करते हैं वो स्वयं ‘मुक्त’ हो जायेंगे और कांग्रेस बनी रहेगी।  

Source Link