शिक्षा मंत्री धमेंद्र प्रधान ने देश में विद्यालयों के खुलने की स्थिति की समीक्षा की

नयी दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धमेंद्र प्रधान ने देशभर में विद्यालयों के खुलने की स्थिति और उनके कर्मियों को टीका लगाने के रोडमैप की बुधवार को समीक्षा की। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए राष्ट्रीय लॉकडाउन से पहले पिछले साल मार्च में विद्यालयों को बंद कर दिया गया था। केंद्र ने पिछले साल अक्टूबर में विद्यालयों को उनके राज्यों में कोविड-19 की स्थिति के अनुसार खोलने की अनुमति दी थी। कुछ राज्य आंशिक रूप से विद्यालय खोलने ही लगे थे कि इस साल अप्रैल में उन्हें पूरी तरह बंद कर दिया गया क्योंकि देश में कोविड -19 की दूसरी भयावह लहर आ गयी।

कोविड-19 की स्थिति में सुधार के साथ ही अब कई राज्यों ने विद्यालयों को खोलना शुरू कर दिया है। हालांकि शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मियों का पूरी तरह टीकाकरण नहीं होने को लेकर चिंता व्यक्त की गयी है। शिक्षा मंत्रालय ने ट्वीट किया, ‘‘ शिक्षा मंत्री श्री धमेंद्र प्रधान ने स्कूली शिक्षा एवं साहित्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ देशभर में विद्यालयों के खुलने की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने सितंबर तक विद्यालयों में सभी शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मियों के टीकाकरण के रोडमैप का भी जायजा लिया। ’’ मंत्रालय ने कहा कि केंद्र देशभर में विद्यालयों में शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मियों के टीकाकरण को प्राथमिकता दे रहा है ‘ ताकि विद्यालयों के खुलने के लिए सुरक्षित माहौल सुनिश्चित हो।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply