राजद से गठबंधन टूटने के बाद बिहार में संगठन को मजबूत करने पर ध्यान देगी कांग्रेस

राजद से गठबंधन टूटने के बाद बिहार में संगठन को मजबूत करने पर ध्यान देगी कांग्रेस

पटना|  हाल में संपन्न बिहार विधानसभा की दो सीटों के उपचुनाव में अपनी पुरानी सहयोगी लालू प्रसाद की पार्टी राजद के ‘‘दरकिनार’’ कर दिए जाने के अनुभव से सबक लेते हुए हुए कांग्रेस ने बुधवार को जोर देकर कहा कि वह प्रदेश में अपने संगठन को मजबूत करेगी।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव तारिक अनवर ने राजद के साथ अपनी पार्टी के भविष्य में गठजोड़ की संभावना के बारे में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा, ‘‘उपचुनाव ने हमें यह सबक सिखाया कि हमें बिहार में अपने संगठन पर काम करने की जरूरत है। हम लोकसभा चुनाव से पहले ऐसा करने जा रहे हैं।‘‘

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हालांकि यह हमारे शीर्ष नेतृत्व पर निर्भर करता है कि वह राजद के साथ भविष्य के किसी भी पुनर्गठन पर विचार करे। तारिक अनवर ने शराबबंदी की ‘‘विफलता’’ पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भी आलोचना की।

उन्होंने 2016 में बिहार में शराब की बिक्री और खपत पर पूर्ण प्रतिबंध लगाए जाने का जिक्र करते हुए कहा कि गांधीवादी होने के नाते कांग्रेस पूर्णशराबबंदी की पक्षधर रही है।

उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य को अब आबकारी राजस्व का नुकसान हो रहा है जबकि शराब के अवैध कारोबार में शामिल लोग संपत्ति अर्जित कर रहे हैं।

Source Link