National

तीसरी लहर के खतरे के बीच दिल्ली-NCR और UP में नए साल के जश्न पर पाबंदी, इस राज्य ने सेलिब्रेशन के लिए दी विशेष छूट

ओमिक्रोन के खौफ के बीच देश में कोरोना वायरस की रफ्तार तेज हो गई है। कोरोना के दैनिक मामले दस हजार के पार पहुंच गए हैं वहीं ओमिक्रोन के मामले भी एक हजार के करीब पहुंच चुके हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों ने देश में संक्रमण की तीसरी लहर का खतरा बढ़ा दिया है। देश में बढ़ते कोरोना की रफ्तार के बीच दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा और यूपी में नए साल के जश्न पर पाबंदी लगा दी है। लेकिन एक राज्य ऐसा भी है जिसने न्यू ईयर के सेलिब्रेशन के लिए लोगों को विशेष छूट प्रदान की है। ये राज्य है राजस्थान जहां प्रदेश सरकार की तरफ से कर्फ्यू में राहत दी गई है। गाइड लाइन में 31 दिसंबर की रात को जश्न मनाने के लिए छूट दी गई है।

नये साल पर कर्फ्यू में 2 घंटे की छूट

राजस्थान में सामान्य दिनों में रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू रहेगा। लेकिन नये साल की रात एक बजे तक कर्फ्यू में छूट रहेगी। इधर सरकार ने बढ़ते सक्रमण को देखते हुए शादी-समारोह में मेहमानों की संख्या 200 तक सीमित कर दी है। वहीं सिनेमा हॉल, मल्टीप्लेक्स ऑडिटोरियम 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चल सकेंगे। वैक्सीन की अनिवार्यता भी नए साल के बाद रखी गई है। नए साल के बाद कॉलेज, सिनेमा और होटल में वैक्सीन की डबल डोज लगाने वालों को ही एंट्री मिलेगी।

कोरोना के मामले बढ़े 

बता दें कि राजस्थान सरकार टूरिस्टों के प्रदेश में भारी तादाद में आने के बावजूद इस तरह की रिस्क ले रही है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पिछले पांच दिनों में जयपुर में 60 हजार टूरिस्ट आए हैं। वहीं अगर प्रदेश में कोरोना केस की बात करें तो कोरोना से संक्रमित मरीजों के रोजाना आंकड़े बढ़ रहे हैं। पिछले 7 दिनों के आंकड़ों की बात की जाए तो 5 गुना से भी ज्यादा संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। जयपुर शहर में 1 सप्ताह के दौरान 237 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। 

Source Link