भाजपा नेता के रिश्तेदार को एनसीबी ने हिरासत में लेने के कुछ घंटे बाद छोड़ दिया था: नवाब मलिक

मुंबई। राकांपा नेता नवाब मलिक ने शनिवार को दावा किया कि स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने पिछले हफ्ते मुंबई तट के पास गोवा जा रहेएक क्रूज जहाज से शुरू में 11 लोगों को हिरासत में लिया था, लेकिन उनमें से तीन को कुछ घंटे बाद छोड़ दिया था, जिसमें भाजपा नेता मोहित भारतीय के एक रिश्तेदार भी शामिल थे। राकांपा प्रवक्ता एवं महाराष्ट्र के मंत्री मलिक ने यहां संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए आरोप लगाया कि उन तीन लोगों में भारतीय के रिश्तेदार ऋषभ सचदेवा भी शामिल थे।

उन्होंने कहा कि दो अन्य – प्रतीक गब्बा और आमिर फर्नीचरवाला – जो बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को क्रूज पार्टी में लाये थे, को हिरासत में लिये जाने के दो घंटे बाद सचदेवा के साथ छोड़ दिया गया था।
संपर्क किये जाने पर भारतीय ने राकांपा के आरोपों पर तुरंत टिप्पणी करने से इनकार कर दिया, लेकिन उनके कार्यालय ने कहा कि वह दिन में बाद में संवाददाता सम्मेलन करेंगे। मलिक ने कहा, अदालत में चल रही सुनवाई में प्रतीक और आमिर के नाम सामने आए थे।’’
मलिक ने पहले घोषणा की थी कि वह शनिवार को उस भाजपा नेता के नाम का खुलासा करेंगे, जिसके रिश्तेदार को उनके अनुसार एनसीबी ने छोड़ दिया था।
इस गुप्त सूचना के आधार पर कि एक जहाज पर पार्टी होनी है, एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े के नेतृत्व में एजेंसी की एक टीम ने पिछले शनिवार को कॉर्डेलिया क्रूज पर छापा मारा था और वहां से प्रतिबंधित मादक पदार्थ बरामद करने का दावा किया था।

मामले में आर्यन खान समेत कुल 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
राकांपा नेता ने मांग की कि वानखेड़े के साथ ही इन तीन लोगों के कॉल रिकॉर्ड की जांच की जाए।
मलिक ने दावा किया, ‘‘ऋषभ सचदेवा के पिता और एक रिश्तेदार एनसीबी कार्यालय आए और सचदेवा के पिता के फोन से वानखेड़े और मुंबई और दिल्ली में भाजपा नेताओं के बीच बातचीत हुई।’’
उन्होंने सवाल किया, ‘‘इन तीन व्यक्तियों के फोन क्यों नहीं जब्त किए गए?’’
मलिक के मुताबिक, मुंबई पुलिस को भी यह जानकारी दी गई थी कि क्रूज जहाज से 11 लोगों को हिरासत में लिया गया है।
मलिक ने यह भी आरोप लगाया कि क्रूज पर एनसीबी की छापेमारी ‘‘फर्जी, योजनाबद्ध और फिल्म उद्योग एवं महाराष्ट्र सरकार को बदनाम करने की साजिश थी।’’
अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने आरोप लगाया, ‘‘चुनिंदा लोगों को गिरफ्तार किया गया है… मामला गंभीर है। सीसीटीवी फुटेज ली जानी चाहिए और एक विस्तृत जांच होनी चाहिए।’’

उन्होंने अपने आरोपों को लेकर उन पर हमला करने के लिए भाजपा पर भी निशाना साधा।
मलिक ने कहा, ‘‘भाजपा का कहना है कि मैं एनसीबी पर हमले कर रहा हूं क्योंकि मेरे दामाद को एजेंसी ने गिरफ्तार किया था। मैंने कभी अपने दामाद का समर्थन नहीं किया और वह अपना केस लड़ेंगे। मैं वह जानकारी एनसीबी को कैसे दे सकता हूं, जो इस मामले में मेरे पास है, जिसने एक झूठा मामला तैयार किया है। अगर जांच करने के लिए एक स्वतंत्र आयोग का गठन किया जाता है, तो मैं ऐसा करूंगा।’’
उनके दामाद समीर खान को एनसीबी ने इस साल 13 जनवरी को कथित मादक पदार्थ मामले में गिरफ्तार किया था। उन्हें सितंबर में जमानत मिली थी।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply