National

भाजपा सिर्फ विकास की ही नहीं अल्पसंख्यकों की भी दुश्मन: अखिलेश यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रविवार को लखनऊ में भगवान परशुराम के नवनिर्मित मंदिर में दर्शन पूजन किया और समाजवादी विजय यात्रा लेकर निकले। लखनऊ से निकला संदेश, बाइस में आ रहे अखिलेश जैसे नारों के बीच राजधानी में अपनी समाजवादी विजय यात्रा में अखिलेश यादव ने अपने संबोधन में भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा केवल विकास की दुश्मन नहीं हैं, ये अल्पसंख्यकों के भी दुश्मन हैं और इनको इसलिए अल्पसंख्यकों का दुश्मन कहता हूं कि जिस समय ये सरकार में आये दिल्ली की लोकसभा और उप्र की विधानसभा में बैठने के लिए एंग्लो इंडियन लोगों के लिए जो आरक्षण था, उस आरक्षण को समाप्त कर दिया। गौरतलब है कि भाजपा सरकार में विधानसभा में एंग्लो इंडियन के लिए आरक्षित सीट समाप्त कर दी गई है।

कानपुर और कन्नौज में इत्र व्यापारियों के यहां आयकर छापेमारी की चर्चा करते हुए यादव ने कहा कि ये लोग छापा इसलिए मार रहे हैं क्योंकि जैन समाज के लोग अल्पसंख्यक समाज से आते हैं, ये नहीं चाहते कि जैन लोग तरक्की करें। उन्होंने आरोप लगाया कि छापेमारी में कानपुर में (पीयूष जैन) जो पैसा निकला वह भारतीय जनता पार्टी का था और जो दीवारों से निकला वह भाजपा का था और जो गिना गया वह भी भाजपा का था। यादव ने दावा किया कि भाजपा बदनामी से बचने के लिए अपने गलत फैसले को सही बनाने के लिए जबर्दस्‍ती समाजवादियों के ऊपर उंगली उठाने का कार्य कर रही है। यादव ने कन्नौज में सपा के विधान परिषद सदस्य और समाजवादी इत्र बनाने वाले पुष्पराज जैन के यहां छापेमारी की ओर इशारा किया। उल्लेखनीय है कि आयकर ने पहले कानपुर और कन्नौज में इत्र कारोबारी पीयूष जैन के यहां छापेमारी की जिनके यहां ढाई सौ करोड़ से अधिक बेहिसाब नकदी बरामद हुई थी और इसके करीब हफ़्ते भर बाद समाजवादी इत्र बनाने वाले सपा विधान पार्षदपुष्पराज जैन के यहां छापेमारी की। सपा प्रमुख ने लखनऊ में समाजवादी पार्टी की सरकारों में हुए विकास कार्यों को गिनाते हुए सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी पर विकास पूरी तरह से ठप करने का आरोप लगाया और कहा कि हर वर्ग परिवर्तन चाहता है क्योंकि भाजपा के साढ़े चार वर्ष के समय में उप्र की जनता को दुख और परेशानी मिली है।

Source Link