बिहार की बेटी ने बढ़ाया राज्य का सम्मान, ISRO में बनीं कंप्यूटर वैज्ञानिक, परीक्षा में देशभर में मिला तीसरा स्थान

बिहार के मुजफ्फरपुर की रहने वाली ज्योति ने पूरे राज्य का मान बढ़ाया है। दरअसल, ज्योति इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन में तीसरे रैंक के साथ कंप्यूटर वैज्ञानिक बन गई हैं। ज्योति के परिवार के साथ साथ यह पूरे बिहार के लिए गौरव की बात है। हर तरफ उनकी वाहवाही हो रही है। ज्योति के जानकार बताते हैं कि वह शुरू से मेधावी छात्रा रहीं हैं। उनके पिता प्रोफ़ेसर हैं। फिलहाल ज्योति कोल इंडिया रांची में एग्जीक्यूटिव हैं।
आपको बता दें कि ज्योति ने भागलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज से 2019 में कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई पूरी की थी। इसके बाद उनका कोल इंडिया में और फिर नेशनल इनफॉर्मेटिक्स सेंटर में आईटी प्रोफेशनल के लिए चयन हुआ। ज्योति मुजफ्फरपुर के होली मिशन स्कूल से दसवीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद 12वीं में साइंस संकाय में 95.5% अंक प्राप्त कर शानदार सफलता हासिल की। इसके बाद इंजीनियरिंग में वह अपना भविष्य संवारने की सोचने लगी। उनकी दिलचस्पी कंप्यूटर साइंस में थी। ऐसे में उन्होंने इसके बारे में सोचा।
हालांकि ज्योति के मन में हमेशा वैज्ञानिक बनने की भी चाहत रहती थी। इसके लिए वह लगातार तैयारी करती रही। पिछले साल इसरो द्वारा वैज्ञानिक के पदों के लिए 12 जनवरी को ही प्रवेश परीक्षा आयोजित की गई थी। प्रवेश परीक्षा पास करने के बाद इसी साल 16 मार्च को साक्षात्कार भी हुए थे। साक्षात्कार होने के बाद परिणाम है जिसमें ज्योति पूरे भारत में तीसरे नंबर पर आईं। ज्योति की कामयाबी के बाद उनका पूरा परिवार खुश है। ज्योति बिहार की उन तमाम बेटियों के लिए प्रेरणा हैं जो कामयाबी की बुलंदियों पर पहुंचना चाहती हैं।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply