National

ओबीसी आरक्षण प्रदर्शन: भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर को भोपाल एयरपोर्ट से हिरासत में लिया गया

भोपाल। अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के लिए 27 प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर रविवार को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आवास का घेराव करने की कोशिश से पहले ही भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद और एक दर्जन अन्य लोगों को यहां हिरासत में लिया गया।
भोपाल के पुलिस आयुक्त मकरंद देउस्कर ने बताया कि आजाद को 12 से 13 लोगों के साथ यहां राजाभोज हवाईअड्डे पर पहुंचते ही हिरासत में ले लिया गया। हालांकि, आयुक्त ने इस बात से इनकार किया कि 150 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया है।

देउस्कर ने कहा, ‘‘हमने लगभग 1,500 प्रदर्शनकारियों को रोका और उन्हें वापस भेज दिया। हमें संदेह था कि वे रोशनपुरा चौराहे पर इकट्ठा हो सकते हैं और वहां से मुख्यमंत्री निवास के लिए कूच कर सकते हैं।’’
इस बीच, ओबीसी महासभा के राष्ट्रीय महासचिव तुलसीराम पटेल ने कहा कि वे शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने की योजना बना रहे थे लेकिन स्थानीय प्रशासन ने इन लोगों को हिरासत में ले लिया। पटेल ने आरोप लगाया कि इनमें से कुछ लोगों के साथ पुलिस ने मारपीट भी की है।
उन्होंने दावा किया, ‘‘मध्य प्रदेश और भारत में ओबीसी की आबादी क्रमश: 65 फीसदी और 85 फीसदी है, लेकिन उन्हें उनकी संख्या के हिसाब से आरक्षण नहीं मिल रहा है। केंद्र दावा करता है कि ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण मिल रहा है और राज्य का कहना है कि वह 14 फीसदी आरक्षण दे रहा है। हालांकि, ओबीसी समुदाय को आठ फीसदी आरक्षण भी नहीं मिल रहा है।’’
पटेल ने कहा कि भीम आर्मी और आदिवासी संगठन जय युवा आदिवासी शक्ति ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण दिलाने की मांग को लेकर यह प्रदर्शन कर रहे हैं।
इस बीच, कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमलनाथ ने राज्य सरकार पर तंज कसते हुए ट्वीट किया, ‘‘ओबीसी वर्ग, दलित वर्ग, आदिवासी वर्ग का कितना भी दमन कर लो, यह वर्ग अपने हक की मांग को लेकर संघर्ष करता रहेगा। यह डरने-दबने वाला नहीं है। कांग्रेस इन वर्गों के साथ खड़ी है और इनके हित, उत्थान व कल्याण के लिये हम सदैव संकल्पित हैं।’’
उन्होंने कहा, ‘‘आंदोलन को कुचलने का काम किया जा रहा है। उनके साथ मारपीट की जा रही है और यह सब खुद को इस वर्ग की हितैषी बताने वाली सरकार में हो रहा है।’’
कमलनाथ ने आगे लिखा, ‘‘ओबीसी महासभा द्वारा पंचायत चुनावों में ओबीसी आरक्षण प्रदान करने की मांग को लेकर आज भोपाल में प्रदर्शन की पूर्व में ही घोषणा की गयी थी। लेकिन पता नहीं शिवराज सरकार को ओबीसी वर्ग से परहेज क्यों है? सरकार उनके दमन पर क्यों उतारू हो गयी है।’’
वहीं, कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मध्य प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने मीडिया से यहां कहा कि कुछ लोग ओबीसी आरक्षण के नाम पर राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ओबीसी वर्ग को पंचायत चुनाव में 27 प्रतिशत आरक्षण देने के लिए पूरे प्रयास कर रही है।

Source Link