भारी बारिश और जलभराव के बीच राकेश टिकैत ने दिया धरना, बोले- खेतों के लिए बरस रहा सोना

नयी दिल्ली। केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन पिछले 9 महीने से भी ज्यादा समय से जारी है। इसी बीच भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत की एक तस्वीर सामने आई, जो काफी चर्चा में है। दरअसल, किसान नेता राकेश टिकैत दिल्ली में हुई भारी बारिश के बीच में भी धरनास्थल से हिले नहीं और वहीं पर डटे रहे। 

इस तस्वीर में राकेश टिकैत के साथ कुछ और लोग भी दिखाई दे रहे हैं। यूपी गेट बॉर्डर पर जारी विरोध प्रदर्शन भारी बारिश और जलभराव के बावजूद चलता रहा। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बारिश के चलते मंच का संचालन नहीं हो सका। ऐसे में किसान अस्थाई टेंट में बैठे रहे। हालांकि कुछ टेंट को क्षति पहुंची है।

भाकयू के मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक ने कहा कि भाकयू नेता राकेश टिकैत ने जलजमाव वाली सड़क पर बैठकर धरना जारी रखा। हम मांग करते रहे हैं कि यहां से दिल्ली की ओर जाने वाले नालों की सफाई कराई जाए लेकिन संबंधित अधिकारियों ने इस पर कभी ध्यान नहीं दिया।

इसी बीच उन्होंने कहा कि अब विरोधस्थल पर डटे किसानों ने तीनों मौसम (सर्दी, गर्मी और बरसात) देख लिए हैं। ऐसे में किसान अब किसी से डरने वाले नहीं हैं। 

राकेश टिकैत ने क्या कहा ?

प्राप्त जानकारी के मुताबिक जलभराव के बीच में बैरकेटिंग के पास राकेश टिकैत बैठ गए। इस दौरान उन्होंने कहा कि किसान सर्दी, गर्मी और बरसात से परेशान होने वाला नहीं है। किसान तो हर मौसम में रहने का आदी होता है। यह बरसात नहीं है बल्कि हमारे खेतों में सोना बरस रहा है। दिल्ली में हो रही बारिश को किसान नेता ने भगवान शिव की कृपा बताया और हर हर महादेव का उद्घोष किया।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply