National

पी चिदंबरम का दावा, मुस्लिमों के बाद अब हिंदुत्व ब्रिगेड के निशाने पर ईसाई हैं

पी चिदंबरम का दावा, मुस्लिमों के बाद अब हिंदुत्व ब्रिगेड के निशाने पर ईसाई हैं

नयी दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने बुधवार को आरोप लगाया कि मुस्लिमों के बाद अब हिंदुत्व ब्रिगेड का नया निशाना ईसाई हैं। उन्होंने मिशनरीज ऑफ चैरिटी के एफसीआरए पंजीकरण को नवीनीकृत करने से सरकार के इनकार का हवाला देते हुए यह बात कही। गोवा के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ चुनाव पर्यवेक्षक, चिदंबरम ने यह भी दावा किया कि मुख्यधारा की मीडिया ने मिशनरीज ऑफ चैरिटी (एमओसी) से संबंधित गृह मंत्रालय की कार्रवाई की खबर को अपने पृष्ठों से हटा दिया। उन्होंने कहा कि यह दुखद और शर्मनाक है।

Did you notice that the mainstream media has banished the story of MHA-FCRA-Missionaries of Charity from its pages?

Sad and shameful!

The rejection of renewal to MoC is a direct attack on NGOs who are doing yeoman service for the ‘poor and wretched’ of India.

— P. Chidambaram (@PChidambaram_IN) December 29, 2021

उन्होंने ट्विटर पर कहा, “मिशनरीज ऑफ चैरिटी (एमओसी) के नवीनीकरण की अस्वीकृति भारत के गरीब और वंचित वर्गों के लिए जनसेवा कर रहे गैर सरकारी संगठनों पर सीधा हमला है। चिदंबरम ने कहा, “एमओसी के मामले में, यह ईसाइयों के धर्मार्थ कार्य के खिलाफ पूर्वाग्रह को दर्शाता है। मुस्लिमों के बाद, अब ईसाई हिंदुत्व ब्रिगेड का नया निशाना हैं।” गोवा विधानसभा चुनाव में लगातार दो बार की हार के बाद, कांग्रेस अगले साल की शुरुआत में होने वाले चुनाव में वापसी की उम्मीद कर रही है।

Source Link