ABP C-Voter Survey: उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर में हो सकती है भाजपा की वापसी, पंजाब में AAP को बढ़त

अगले साल पांच राज्यों में विधानसभा के चुनाव प्रस्तावित हैं। सभी राजनीतिक दल अपनी अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देने की कोशिश कर रहे हैं। सबसे खास बात यह है कि जिन राज्यों में अगले साल चुनाव होने हैं उसमें उत्तर प्रदेश भी शामिल है। उत्तर प्रदेश की राजनीति अपने आप में बेहद ही दिलचस्प होती है और दिल्ली की सत्ता के लिए यहां जीत हर पार्टी के लिए मायने रखती है। इन सब के बीच आज एबीपी न्यूज़ ने सी वोटर के साथ मिलकर एक सर्वे किया है। इस सर्वे में जनता के मूड को भागने की कोशिश की गई है।
उत्तर प्रदेश में बनेगी भाजपा सरकार
सर्वे के मुताबिक उत्तर प्रदेश में एक बार फिर से भाजपा की वापसी हो सकती है। सर्वे का दावा है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा को 41 फ़ीसदी वोट हासिल हो सकती है। तो वहीं दूसरी ओर समाजवादी पार्टी के खाते में 32 फ़ीसदी तो बहुजन समाज पार्टी के खाते में 15 फ़ीसदी वोट जाने के आसार हैं। कांग्रेस को सिर्फ 6 फ़ीसदी वोट मिलती हुई दिखाई दे रही है। सीटों के लिहाज से देखें तो भाजपा को 2017 के मुकाबले इस बार नुकसान जरूर हो रहा है परंतु उसकी सरकार बन सकती है। उसे 241 से 249 सीटें मिलती हुई दिखाई दे रही है। जबकि समाजवादी पार्टी के सीटों में इजाफा देखने को मिल रहा है और उसे 130 से 138 सीटों के बीच मिलती दिख रही है। बसपा के खाते में 15 से 19 सीट तो कांग्रेस के खाते में 3 से 7 सीटें जा सकती हैं। 
उत्तराखंड में भाजपा मजबूत
माना जा रहा है कि इस बार का उत्तराखंड चुनाव में दिलचस्प हो गया है क्योंकि आम आदमी पार्टी ने भी वहां दमखम लगा रही है। ऐसे में लगातार इस बात का दावा किया जा रहा है कि वहां त्रिकोणीय मुकाबला होगा। हालांकि सर्वे के मुताबिक एक बार फिर से उत्तराखंड में भाजपा की सरकार बन सकती है। भाजपा को 45 फ़ीसदी वोट मिलते हुए दिखाई दे रही है। जबकि कांग्रेस के खाते में 34 फ़ीसदी जा रही है। आम आदमी पार्टी को महज 15 फ़ीसदी वोट मिल रही है। सीटों के हिसाब से 42 से 46 सीटें भाजपा को मिलेगी जबकि कांग्रेस को 21 से 25 सीटें, आम आदमी पार्टी का खाता जरूर खुलेगा और उसे 0 से 4 सीटें हासिल होंगी। 
पंजाब में आप
सर्वे की मानें तो 117 सदस्य वाली पंजाब विधानसभा में आम आदमी पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभर सकती है। पिछले महीने कांग्रेस में जारी सियासी बवाल के बीच आम आदमी पार्टी के खाते में 36 फ़ीसदी वोट जाती हुई दिखाई दे रही है। जबकि कांग्रेस को सिर्फ 32 फ़ीसदी वोट मिल रही है। अकाली दल को 22 जबकि भाजपा को 4 फ़ीसदी वोट मिल सकती है। सीटों के लिहाज से देखें तो आम आदमी पार्टी को 49 से 55 सीटें और कांग्रेस को 30 से 47 सीटें मिलती हुए दिखाई दे रही है। अकाली दल को 17 से 25 सीटें मिल सकती हैं। ऐसे में बहुमत का आंकड़ा वहां किसी दल को मिलता दिखाई नहीं दे रहा है। हालांकि आम आदमी पार्टी को बढ़त है। 
गोवा में खिलेगा कमल
40 सदस्य गोवा विधानसभा चुनाव में एक बार फिर से भाजपा सत्ता में लौट सकती है। पार्टी को गोवा में 24 से 28 सीटें मिल सकती है। जबकि कांग्रेस के खाते में 1 से 5 सीटें और आम आदमी पार्टी के खाते में 3 से 7 सीटें जा सकती है। 
मणिपुर में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी
मणिपुर में भी भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभर सकती है। वहां उसे 21 से 25 सीटें मिल सकती हैं। हालांकि सरकार बनाने के लिए 31 सीटों की आवश्यकता है। ऐसे में उसे गठबंधन की जरूरत पड़ेगी। कांग्रेस 18 से 22 सीटें जबकि एनपीएफ को 4 से 8 सीटें मिल सकती है। अन्य के खाते में 1 से 5 सीटें जाएंगी। 

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •