National

15-18 आयु वर्ग में 41 लाख से अधिक किशोरों ने कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक ली

नयी दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कि सोमवार को 15 से 18 आयु वर्ग में टीकाकरण अभियान के पहले दिन रात आठ बजे तक 41 लाख से अधिक किशोरों ने कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक ली।
इसके साथ ही देश में अब तक 146.61 करोड़ से अधिक टीके की खुराकें दी जा चुकी है। सोमवार को रात सवा दस बजे तक 98 लाख से अधिक खुराकें दी गयी।
इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्वीट किया था, ‘‘बहुत बढ़िया युवा भारत। बच्चों के टीकाकरण अभियान के पहले दिन 15-18 आयु वर्ग के 40 लाख से अधिक बच्चों को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक मिली। यह भारत के टीकाकरण अभियान के शीर्ष में एक और उपलब्धि है।’’

इस श्रेणी के लिए एक जनवरी को टीकाकरण शुरू होने के बाद रात सवा दस बजे तक कोविन पोर्टल पर 53 लाख से अधिक किशोरों ने पंजीकरण कराया।
इससे पहले मांडविया सोमवार दोपहर को आरएमएल अस्पताल में बच्चों के लिए कोविड टीकाकरण स्थल पर पहुंचे और उन्होंने वहां कुछ लाभार्थियों से बातचीत भी की।
उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘आरएमएल अस्पताल गया और 15-18 आयु वर्ग में बच्चों के लिए टीकाकरण अभियान का जायजा लिया तथा बच्चों से बातचीत की और उनसे अपने दोस्तों को टीके की खुराक लेने के लिए प्रेरित करने को कहा।’’

को-विन प्रमुख और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के सीईओ डॉ. आर एस शर्मा ने कहा, ‘‘हमें अच्छी प्रतिक्रिया मिली है। बच्चे टीके की खुराक लेने के लिए आगे आ रहे हैं और आज आयी संख्या बहुत उल्लेखनीय है।’’
उन्होंने बताया कि 15-18 आयु वर्ग के बच्चे अपना अकाउंट बना सकते हैं या कोविन पर अपने माता-पिता के अकाउंट से पंजीकरण करा सकते हैं।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा हाल में जारी दिशा निर्देशों के अनुसार, 15-18 आयु वर्ग में बच्चों के लिए कोविड-19 रोधी टीके का विकल्प केवल कोवैक्सीन है। इस श्रेणी के लाभार्थियों के लिए पंजीकरण शनिवार को शुरू हो गया।

Source Link