2022 चुनाव की तैयारी शुरू, चलागा गया समाजवादी जनसंपर्क अभियान

“जाति धर्म का मीटे कलेश, युपी मांगे फिर अखिलेश”  इस नारे के साथ समाजवादी पार्टी के तमाम कार्यकर्ता अभी से ही 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए कमर कस लिए हैं। मौजूदा वक्त में समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता तथा योगी आदित्यनाथ के भूतकाल में बाएं हाथ कहे जाने वाले सुनील सिंह ने अपना विशेष योगदान समाजवादी पार्टी के लिए दिखाया है। वे लगातार लोगों से सीधे संपर्क में हैं और जगह-जगह पर कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए जनसभाएं भी कर रहे हैं। सुनील सिंह के साथ-साथ उनकी युवा टीम भी लगातार उनके साथ कदम से कदम मिलाकर जनसंपर्क अभियान को और सफल बनाने के प्रयास में जुट गई है।
 

इसे भी पढ़ें: गोरखपुर: भाजपा के पदाधिकारियों की हुई बैठक, सेवा ही संगठन को चरितार्थ करने पर जोर

2022 में सपा की सरकार बने और प्रदेश की बागडोर युवाओं, नौजवानों, बेरोजगारों, मजदूरों, किसानों की उम्मीद की किरण और विकास पुरुष अखिलेश यादव जी के हाथ में जाए। इसी उद्देश्य के साथ विभिन्न ग्रामसभाओं में जागरूकता एवं नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों के स्वागत के क्रम संतकबीरनगर जनपद में समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता सुनील सिंह ग्रामसभा माधोपुर में उपस्थित होकर ग्रामप्रधान सतपाल यादव का स्वागत किए और ग्रामसभा के विकास में हर संभव मदद करने का आश्वासन भी दिए।
 

इसे भी पढ़ें: गोरखपुर में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए 2 मिनट का मौन रखा

सुनील सिंह ने कहा कि इस दमनकारी और अत्याचारी सरकार का प्रदेश से चला जाना ही यहां के जनता के लिए भलाई का कार्य होगा उन्होंने कहा कि जिस तरीके से गरीबों को इस सरकार ने परेशान किया है। वह कोई और दूसरी सरकार कर ही नहीं सकती। उन्होंने कहा कि जिस विकास के कार्यों को माननीय अखिलेश यादव ने अपने कार्यकाल में किया था। उसे फीता काटकर अपना नाम देने वाले योगी आदित्यनाथ का उत्तर प्रदेश से चला जाना ही हम सबके भलाई में है। उन्होंने कहा कि यदि उत्तर प्रदेश का विकास संभव है तो वह सिर्फ और सिर्फ अखिलेश यादव के नेतृत्व में संभव है।

Source Link

National