हिमाचल: पर्यटकों को होनी चाहिए पर्यावरण की समझ, जगह-जगह फेंक रहे हैं प्लास्टिक और शराब की बोतलें

शिमला। देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के गिरावट आने के बाद हिमाचल की जयराम ठाकुर सरकार ने पर्यटकों को यहां आने की अनुमति प्रदान की है। अब यहां की वादियों में घूमने के लिए पर्यटकों को कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट साथ लाने की आवश्यकता नहीं है। 

इसे भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश में डेल्टा प्लस वेरिएंट का आया पहला मामला, नमूने की हो रही जांच 

जयराम ठाकुर सरकार द्वारा दी गई छूट के बाद पर्यटकों का तांता लग गया है। पर्यटन कारोबार ने भी गति पकड़ी है। लेकिन पर्यटकों द्वारा गंदगी फैलाए जाने की खबरें आ रही हैं। बताया जा रहा है कि वादियों में पर्यटक जहां-तहां प्लास्टिक और शराब की बोतलें फेंक रहे हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक हिमाचल में कोविड लॉकडाउन में छूट मिलने के बाद शिमला में आ रहे पर्यटकों के द्वारा गंदगी फैलाई जा रही हैं। जगह-जगह प्लास्टिक और शराब की बोतलें पड़ी हुई हैं। एक स्थानीय युवक ने बताया कि पर्यटकों को पर्यावरण की समझ होनी चाहिए, वह नहीं है। लोग चीजों को इस्तेमाल के बाद फेंक देते हैं। 

इसे भी पढ़ें: हिमाचल का पहला ड्राइव-इन कोविड टेस्टिंग सेंटर धर्मशाला में खुला 

इसी संबंध में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का भी बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि पर्यटकों का स्वागत हैं। हमने प्लास्टिक को कई सालों से प्रतिबंधित किया हुआ है। सुनिश्चित किया जाएगा कि प्लास्टिक का कोई भी सामान खुले में ना फेंका जाए। पर्यटक आए घूमें, ऐसा काम ना करे जो पर्यावरण की सुंदरता को बिगाड़ती है। कचरे को खुले में ना फेंके।

Source Link

Leave a Reply