लोक संस्कृति की सोंधी महक के बीच हुआ कलाकारों का सत्कार

गोरखपुर। योगी सरकार के पहल पर संस्कृति विभाग उत्तर प्रदेश के संगीत नाटक एकेडमी द्वारा  कलाकारों के सम्मान में “सत्कार” कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें कलाकारों की प्रस्तुति एवं उनका सम्मान किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि रमेश सिंह प्रदेश प्रभारी पंचायत प्रकोष्ठ ,कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि डॉ मनोज गौतम निदेशक बौद्ध संग्रहालय , डॉ रूप कुमार बनर्जी एवं पूर्व महापौर डॉ सत्या पांडेय द्वारा दीप प्रज्ज्वलन कर हुआ ।
 
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री पुष्पदंत जैन ने कहा कि एकेडमी द्वारा कलाकारों के सम्मान में आयोजित यह कार्यक्रम कलाकारों को नई ऊर्जा प्रदान करेगा। कार्यक्रम संयोजक उत्तर प्रदेश संगीत नाटक एकेडमी के सदस्य राकेश श्रीवास्तव ने कहा कि कलाकारों की समस्याओं को वे समय समय पर  मुख्यमंत्री को अवगत कराता रहते हैं। उसी का परिणाम है कि प्रदेश सरकार ने कई जिलों में कलाकारों के सहयोग एव मंच देने के उद्देश्य से यह कार्यक्रम प्रारम्भ किया है। कार्यक्रम का शुभारंभ  सर्वप्रथम अजय शर्मा ने गणेश वंदना प्रस्तुत कर  किया। तत्पश्चात लोक संस्कृति  से सराबोर अवंतिका दुबे,उर्वशी श्रीवास्तव, अर्पिता सिंह एवं स्वीटी सिंह ने एक पारंपरिक पचरा गाया “निमिया के डार मइया” प्रस्तुत किया जिसे काफी सराहना मिली। अनीता सिंह ने एक जतसार प्रस्तुत किया। पूर्वांचल में तेज़ी से उभरते कलाकार पवन पंछी ने एक निर्गुण प्रस्तुत कर जीवन दर्शन का बोध कराया।
 
कोमल मौर्या ने झूमर एवं अर्पिता सिंह ने बारहमासा प्रस्तुत किया। व्यास सूरज मिश्र ने एक निर्गुण तथा विजय शंकर मिश्र ने लचारी गाया। उभरती नृत्यांगना सनाया गुप्ता ने अपने दुर्गा स्तुति नृत्य से उपस्थित जन को मन्त्र मुग्ध कर दिया। वाद्य यंत्रों पर बंटी बाबा,मो शकील,अली अहमद,मुख्तार अहमद ने संगत किया, तथा संचालन शिवेंद्र पांडेय ने किया। कार्यक्रम में रेल कर्मचारी नेता सुभाष दुबे,सामाजिक कार्यकर्ता प्रवीण श्रीवास्तव, धराधाम प्रमुख डॉ सौरभ पांडेय, लोक कला विद हरिप्रसाद सिंह, युवा शायर मिन्नत गोरखपुरी, अमर चंद्रा सहित तमाम कला प्रेमी उपस्थित थे। कार्यक्रम के अंत मे प्रगति ग्रुप के निदेशक ध्रुव श्रीवास्तव ने आगन्तुकों के प्रति आभार ज्ञापित किया।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply