जनसंख्या नियंत्रण और गायों की सुरक्षा के लिए सख्त कानून बनाए जाए : भाजपा विधायक

अगरतला।  त्रिपुरा में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक सुधांगशु दास ने शुक्रवार को जनसंख्या नियंत्रण और गायों की सुरक्षा के लिए सख्त कानून बनाने की मांग की। फतिक्रॉय विधानसभा क्षेत्र के भाजपा विधायक दास ने कहा कि वह राष्ट्रहित में जनसंख्या नियंत्रण और गायों की सुरक्षा का मुद्दा आगामी विधानसभा सत्र में उठाएंगे। दास ने कहा, ‘‘ असम और उत्तर प्रदेश सरकार ने जनसंख्या नियंत्रण और गायों की सुरक्षा को लेकर कानून बनाने के लिए कदम उठाए हैं। मुझे लगता है कि इन दो मांगों को केवल त्रिपुरा या अन्य दो-तीन राज्यों में नहीं बल्कि राष्ट्रहित में पूरे देश में क्रियान्वित किया जाना चाहिए। मैं अगले विधानसभा सत्र में यह मामला उठाऊंगा। ’’

इसे भी पढ़ें: पाक विदेश मंत्री कुरैशी शुक्रवार को चीन की यात्रा पर होंगे रवाना, इन मु्द्दों पर होगी चर्चा

दास ने कहा कि देश की जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है, और जब तक सरकारों के पास इससे निपटने के लिए कानूनी ढांचा नहीं होगा, तब तक गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ेगा जिनके सामाजिक और आर्थिक प्रभाव होंगे। उन्होंने कहा, ‘‘ जनसंख्या का इतना बढ़ना देश के लिए एक खतरा है। इससे निपटने के लिए कानून की जरूरत है। आज, भारत एक गंभीर जनसंख्या उछाल की ओर बढ़ रहा है लेकिन संसाधन सीमित ही हैं। हम अपने भौगोलिक क्षेत्र तक सीमित हैं। इसलिए, सभी राज्य सरकारों को उन लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए कानून बनाना चाहिए जो परिवार नियोजन का सहारा ले रहे हैं और मुद्दों पर मार्गदर्शन के लिए सरकारी सुविधाओं का उपयोग कर रहे हैं।’’

इसे भी पढ़ें: पाक विदेश मंत्री कुरैशी शुक्रवार को चीन की यात्रा पर होंगे रवाना, इन मु्द्दों पर होगी चर्चा

दास ने कहा कि गायों की सुरक्षा के लिए सख्त कानून बनाने की भी जरूरत है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि बहुसंख्यक लोगों की भावनाएं आहत न हों। उन्होंने कहा, ‘‘ हिंदू समाज में गायों को पवित्र जानवर के रूप में पूजा जाता है। यदि बहुसंख्यक बहुल क्षेत्र में किसी अन्य धर्म के लोग गाय का वध करते हैं तो यह बहुसंख्यक लोगों के सामाजिक मूल्यों के विरुद्ध है। इसे रोका जाना चाहिए और इसलिए मैं राज्य विधानसभा के अगले सत्र में गोरक्षा पर एक निजी सदस्य संकल्प लाने की योजना बना रहा हूं।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply