‘घोर सांप्रदायिकता और नफरत’ के सहारे चुनाव लड़ना भाजपा का एकमात्र एजेंडा: उमर

 नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने रविवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी की ‘‘घोर सांप्रदायिकता और नफरत’ के अलावा किसी और एजेंडे पर चुनाव लड़ने की कोई मंशा नहीं है और उसका सारा ‘जहर’ मुस्लिमों के प्रति होता है।

उनकी यह टिप्पणी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के उस बयान के बाद आई है, जिसमें कहा गया है कि वर्ष 2017 से पहले सिर्फ ‘अब्बा जान’ कहने वालों को ही सभी राशन मिलता था। आदित्यनाथ ने कुशीनगर में कहा,‘‘ प्रधानमंत्री (नरेंद्र) मोदी के नेतृत्व में तुष्टिकरण की राजनीति का कोई स्थान नहीं है…वर्ष 2017 से पहले क्या सभी राशन ले पाते थे?… पहले केवल अब्बा जान कहने वाले ही राशन हजम कर रहे थे।’’

उमर ने ट्वीट किया,‘‘ मेरा हमेशा से मानना रहा है कि भाजपा की मंशा घोर सांप्रदायिकता और नफरत के अलावा किसी अन्य एजेंडे पर चुनाव लड़ने की नहीं है और उसका सारा जहर मुस्लिमों के प्रति होता है। यहां एक मुख्यमंत्री हैं जो दोबारा यह दावा कर चुनाव जीतना चाहते हैं कि मुस्लिमों ने हिंदुओं के हिस्से का पूरा राशन खा लिया।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply