क्या शिवसेना की भाजपा के साथ बढ़ रही नजदीकियां ? आशीष शेलार के साथ मुलाकात पर राउत ने दिया यह जवाब

मुंबई। शिवसेना सांसद संजय राउत ने रविवार को कहा कि विपक्षी दल भाजपा के मन में अगर महाराष्ट्र के लोगों का हित है तो उसे राज्य विधानसभा का दो दिवसीय मानसून सत्र चलने देना चाहिए। महाराष्ट्र विधानसभा का दो दिन का मानसून सत्र सोमवार से शुरू होना है। पत्रकारों से बातचीत में राउत ने कहा कि विपक्ष को सत्र के दोनों दिन कामकाज सुगमता से चलने देना चाहिए। शिवसेना नेता राउत ने कहा, ‘‘हल्ला-हंगामा सरकार को घेरने का सही तरीका नहीं है। दूसरा पक्ष भी ऐसे हथकंडे अपना सकता है। इससे टीकाकरण, कोविड-19, बेरोजगारी और अर्थव्यवस्था की समस्याएं नहीं सुलझेंगी।’’ 

इसे भी पढ़ें: केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ महाराष्ट्र सरकार मानसून सत्र में प्रस्ताव पारित करेगी: नवाब मलिक 

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में सत्तासीन महा विकास अघाडी (एमवीए) गठबंधन में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा), कांग्रेस और शिवसेना शामिल हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार के पास चर्चा के लिए कई मुद्दे और जनता की कई समस्याएं हैं। राज्य सभा सदस्य ने कहा, ‘‘भाजपा अगर राज्य के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध महसूस करती है तो वह विधानसभा सत्र चलने देगी। राज्य को लोग चाहते हैं कि दो दिन का सत्र शोर-शराबे की भेंट ना चढ़े।’’ शनिवार को भाजपा नेता आशीष शेलार के साथ अपनी मुलाकात की खबर पर, राकांपा नेता ने कहा, ‘‘इस तरह की अफवाहें जितनी ज्यादा फैलेंगी, एमवीए गठबंधन उतना ही मजबूत होगा।’’ 

इसे भी पढ़ें: संजय राउत की ईडी और सीबीआई को सलाह, सरकारों को सत्ता से बेदखल करने में खुद को संलिप्त न करें 

शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हमारे बीच राजनीतिक और वैचारिक मतभेद हो सकता है, लेकिन अगर हम सार्वजनिक कार्यक्रमों में आमने-सामने आते हैं तो दुआ-सलाम जरूर करेंगे। मैं शेलार के साथ सबके सामने भी कॉफी पीता हूं।’’ महाराष्ट्र सरकार केन्द्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव लाने पर विचार कर रही है, इस संबंध में सवाल करने पर राउत ने कहा कि अगर महा विकास अघाडी ऐसा प्रस्ताव रख रही है तो इसका अर्थ है कि गठबंधन की तीनों पार्टियां उसका समर्थन कर रही हैं।

Source Link

Leave a Reply