कांग्रेस ने जम्मू कश्मीर में राष्ट्रीय सुरक्षा के मोर्चे पर ‘नाकामी’ के लिए सरकार पर निशाना साधा

नयी दिल्ली| कांग्रेस ने सोमवार को पुंछ में आतंकवाद निरोधी अभियान में सेना के पांच जवानों के शहीद होने के बाद जम्मू कश्मीर में राष्ट्रीय सुरक्षा के मोर्चे पर ‘नाकामी’ को लेकर नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर निशाना साधा।

विपक्षी दल ने कहा कि केंद्रशासित प्रदेश जल रहा है और सरकार की ‘‘कमजोरी’’ के कारण आतंकवादी निर्दोष लोगों की हत्या कर रहे हैं। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने जान गंवाने वाले पांच जवानों की तस्वीरें फेसबुक पर साझा करते हुए कहा, ‘‘देश के इन वीर शहीदों को सलाम।’’

इसे भी पढ़ें: लखीमपुर हिंसा: कांग्रेस का देशभर में मौन विरोध प्रदर्शन, राज्य मंत्री अजय मिश्रा को हटाने की मांग

कांग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडल पर कहा, ‘‘यह घटना न केवल राष्ट्रीय सुरक्षा के मोर्चे पर मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की विफलता का प्रतिबिंब है बल्कि उनके ‘राष्ट्रवाद’ के मुखौटे को भी उजागर करती है। जम्मू कश्मीर जल रहा है, आतंकवादी पूरे क्षेत्र में बेलगाम घूम रहे हैं और लोग इस सरकार की कमजोरी के कारण अपनी जान गंवा रहे हैं।’’

कांग्रेस ने शहीद हुए सैन्यकर्मियों के परिवारों के प्रति भी गहरी संवेदना व्यक्त की है। विपक्षी दल ने कहा, ‘‘जम्मू कश्मीर के पुंछ में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में पांच बहादुर सैनिकों की शहादत के बारे में जानकर देश स्तब्ध और दुखी है।’’ अधिकारियों ने बताया कि पुंछ जिले में आतंकवाद निरोधी अभियान के दौरान सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक ‘जूनियर कमीशंड अधिकारी’ (जेसीओ) सहित पांच सैन्यकर्मी शहीद हो गए।

नियंत्रण रेखा से पार कर आए आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद सुरनकोट में डेरा की गली (डीकेजी) के पास एक गांव में तड़के अभियान शुरू किया गया। रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर भारी गोलीबारी की जिससे एक जेसीओ और चार अन्य जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। बाद में इलाज के दौरान पास के एक सैन्य अस्पताल में सभी पांच सैनिकों की मौत हो गई।

कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने कहा कि कश्मीर एक बार फिर जल रहा है, जबकि अब यह सीधे केंद्र सरकार के नियंत्रण में है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में शिक्षकों सहित निर्दोष लोगों की हत्या की जा रही है और पूछा कि केंद्र सरकार के सीधे नियंत्रण में होने के बावजूद घाटी क्यों जल रही है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘‘मेरा एकमात्र सवाल यह है कि अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद क्या कश्मीर घाटी में निवेश बढ़ा है, या रोजगार बढ़ा है अथवा प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) बड़ी संख्या में आया है। इसका जवाब है नहीं।’’

इसे भी पढ़ें: योगी की टिप्पणी के विरोध में कांग्रेस नेताओं ने वाल्मिकी मंदिरों और बस्तियों में झाडू लगायी

 

उन्होंने दावा किया कि जब अनुच्छेद 370 लागू था, तब की तुलना में रोजगार और पूंजी प्रवाह घट गया है। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘आप जो कुछ भी करते हैं वह राजनीतिक कारणों से होता है न कि लोगों की भलाई के लिए। आज कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियां बढ़ रही हैं। आपके कुशासन के कारण यह सब हुआ है।’’ कांग्रेस की जम्मू कश्मीर इकाई ने सैन्यकर्मियों की मौत पर दुख और शोक व्यक्त किया तथा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली सरकार से केंद्रशासित प्रदेश में पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाने का आग्रह किया।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply