उत्तर प्रदेश में शुरू होंगे 9 मेडिकल कॉलेज, जानिए PM मोदी कब करेंगे लोकार्पण

कोरोना संक्रमण की आपदा आने के पहले से ही प्रदेश के हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने में जुटी योगी सरकार ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। पहली बार प्रदेश को एक साथ नौ नए मेडिकल कालेजों की सौगात मिलने जा रही है। उत्‍तर प्रदेश के देवरिया, एटा, फतेहपुर, गाजीपुर, हरदोई, जौनपुर, मीरजापुर, प्रतापगढ़ और सिद्धार्थनगर में बनाए इन चिकित्सा संस्थानों का लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसी महीने उत्तर प्रदेश आकर करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: विधानसभा चुनाव से पहले बढ़ा भाजपा का हौसला पर इन चुनावों में सत्तारूढ़ दलों को मिलती रही है भारी जीत 

प्रदेश सरकार की घोषणाओं के अनुपालन में अब मेडिकल कालेजों के निर्माण और उनके रखरखाव के साथ ही नियुक्तियों का क्रम शुरू होने के बाद अब यह सभी संचालन की स्थिति में आ गए हैं। उम्‍मीद जताई जा रही है कि पीएम नरेंद्र मोदी इसी माह प्रदेश के नौ मेडिकल कालेजों का लोकार्पण करेंगे। माना जा रहा है कि पीएम के जल्‍द ही वाराणसी आगमन को देखते हुए वाराणसी में सीएम का दौरा भी प्रस्‍तावित है। इस दौरान पूरी हो चुकी परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्‍यास होने वाले परियोजनाओं का वह तैयारियों का जायजा भी लेंगे। 

कोरोना संक्रमण की आपदा आने के पहले से ही प्रदेश के हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने में जुटी योगी सरकार ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। पहली बार प्रदेश को एक साथ नौ नए मेडिकल कालेजों की सौगात मिलने जा रही है। उत्‍तर प्रदेश के देवरिया, एटा, फतेहपुर, गाजीपुर, हरदोई, जौनपुर, मीरजापुर, प्रतापगढ़ और सिद्धार्थनगर में बनाए इन चिकित्सा संस्थानों का लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसी महीने उत्तर प्रदेश आकर करेंगे। इनके बनने से प्रदेश में कोरोना सहित अन्‍य बीमारियों से निजात के लिए बेहतर चिकित्‍सा संस्‍थान हासिल हो जाएंगे।  

इसे भी पढ़ें: यूपी जिला पंचायत चुनाव: 75 में से 67 सीटों पर बीजेपी का कब्जा, PM ने शानदार प्रदर्शन का श्रेय योगी को दिया 

मुख्‍यमंत्री ने की घोषणा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को अपने सरकारी आवास पर कोरोना संक्रमण और स्वास्थ्य संबंधी व्यवस्थाओं की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को निर्देशित किया था कि प्रदेश में बनकर लगभग तैयार हो चुके नौ नए मेडिकल कालेजों का लोकार्पण इसी महीने प्रधानमंत्री द्वारा किया जाएगा। इसके लिए तैयारी शुरू कर दें। योगी का मानना है कि हर जिले में एक मेडिकल कालेज होना चाहिए। इसी सोच के साथ सरकार ने तेजी से कदम आगे बढ़ाए और नौ मेडिकल कालेजों का निर्माण कराया। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि इनके लिए 70 फीसद फैकल्टी का चयन भी हो चुका है। 450 से अधिक संकाय सदस्यों की नियुक्ति की प्रक्रिया चल रही है।

Source Link

Leave a Reply