अभिनेता मुकेश से कोई शिकायत नहीं, उन्हें अपने भाई की तरह देखता हूं: छात्र

तिरुवनंतपुरम। अभिनेता और माकपा विधायक एम मुकेश को बार-बार फोन करने वाले 10वीं कक्षा के छात्र ने सोमवार को कहा कि वह इस घटना से निराश नहीं हैं और उसे अभिनेता से कोई शिकायत नहीं है। छात्र के बार-बार फोन करने से अभिनेता नाराज हो गए थे। पलक्कड़ में अपने घर में पत्रकारों से बात करते हुए छात्र ने कहा कि उसके कुछ दोस्तों और सहपाठियों के पास पढ़ाई करने के लिये फोन नहीं है। जब उसने सुना कि मुकेश छात्रों को मोबाइल फोन मुहैया करा रहे हैं तो उसने उन्हें फोन किया। छात्र ने स्वीकार किया कि उसने मुकेश को छह बार फोन किया।

इसे भी पढ़ें: शराब की 12 बोतल को खाली कर गये चूहे, मालिक ने खोली दूकान तो था ऐसा मंजर…

इसके बाद अभिनेता ने वापस फोन किया और वह विवादित बातचीत हुई। छात्र ने कहा कि बार-बार फोन किये जाने पर कोई भी नाराज हो सकता है तथा उसे अभिनेता से कोई शिकायत नहीं है और वह उन्हें भाई की तरह देखता है। इससे पहले, भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय समन्वयक ने टेलीफोन कॉल के दौरान छात्र के खिलाफ टिप्पणी करने के मामले में मुकेश के खिलाफ राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) में सोमवार को शिकायत दर्ज कराई। अपने शिकायत पत्र में, जे एस अखिल ने लड़के से बात करने के अभिनेता के तरीके को “अपमानजनक” बताया और यह भी आरोप लगाया कि कोल्लम विधायक मुकेश ने बच्चे को ‘‘अपमानित” किया और “धमकाया।’’ उन्होंने अपनी शिकायत में कहा, “यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि पेशे से सिने कलाकार और विधायक जैसे उच्च पद पर बैठा व्यक्ति, जिसकी प्रमुख जिम्मेदारी एवं प्रतिबद्धता समाज के प्रति है, वह किशोर की समस्या का समाधान करने में विफल रहा।”

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के खेलकूद राज्य मंत्री पर आपत्तिजनक नारे लगाने के आरोप में सपा के पांच कार्यकर्ता गिरफ्तार

मुकेश और विद्यार्थी के बीच फोन पर हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग के मुताबिक, विधायक, अपने जिले के विधायक के बजाय उन्हें फोन करने के लिए पालक्कड़ के लड़के पर चिल्लाए। बाद में, मुकेश ने एक वीडियो में दावा किया कि फोन कॉल उन्हें “परेशान करने और ऐसी स्थिति में फंसाने’’ के लिए “राजनीति से प्रेरित योजना” का हिस्सा थी, जिससे कि उन्हें गुस्सा आ जाए। मुकेश ने मीडिया को बताया कि वह जब से कोल्लम से पुन: निर्वाचित हुए हैं, उन्हें हर दिन अजीबो-गरीब मुद्दों जैसे ट्रेन क्यों देर से चल रही है, बिजली आपूर्ति कब होगी आदि को लेकर फोन आते हैं और आरोप लगाया कि यह सब उन्हें परेशान करने की “बड़ी साजिश” का हिस्सा है। वायरल हुए ऑडियो क्लिप में छात्र को कहते हुए सुना जा सकता है कि उसने मदद के लिए फोन किया है और उसे अपने दोस्त से नंबर मिला।

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में क्षेत्र पंचायत प्रमुख पदों के चुनाव हुए घोषित, 10 जुलाई को होगा मतदान

हालांकि, गुस्साए मुकेश ने छात्र की शिकायत नहीं सुनी और उस पर यह कहते हुए चिल्लाने लगे कि उसे मदद के लिए पालक्कड़ के विधायक को फोन करना चाहिए था, जो मरा नहीं है। उन्हें छात्र को यह कहते हुए भी सुना जा सकता है कि उसे अपने दोस्त को अभिनेता का नंबर देने के लिए चांटा मारना चाहिए। जब लड़के ने कहा कि उसे यह नहीं पता कि पालक्कड़ के विधायक कौन हैं तो मुकेश ने कहा कि अगर वह उनके सामने खड़ा होता तो वह बेंत से उसकी पिटाई करते क्योंकि 10वीं कक्षा के बच्चे को पता होना चाहिए कि उसके निर्वाचन क्षेत्र का विधायक कौन है। उन्होंने कहा कि लड़के ने उन्हें छह बार फोन किया जबकि वह जूम मीटिंग में थे और मीटिंग बंद हो रही थी। उन्होंने कहा कि उन्हें बच्चों के साथ कैसे पेश आना चाहिए, यह सिखाने की जरूरत नहीं है क्योंकि उनके भी बच्चे हैं।

Source Link

Leave a Reply