SCO बैठक में बोले इमरान खान, अफगानिस्तान को बाहर से नियंत्रित नहीं किया जा सकता

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि अफगानिस्तान को बाहर से नियंत्रित नहीं किया जा सकता और इस्लामाबाद युद्ध प्रभावित पड़ोसी देश का सहयोग जारी रखेगा। साथ ही, उन्होंने तालिबान से अपने वादों को पूरा करने की अपील भी की। ताजिकिस्तान की राजधानी दुशान्बे में 20 वीं शंघाई सहयोग संगठन राष्ट्राध्यक्ष परिषद (एससीओ-एसीएचएस) को संबोधित करते हुए खान ने वर्तमान में तालिबान के शासन वाले अफगानिस्तान में तत्काल मानवीय सहायता के लिए अंतरराष्ट्रीय समर्थन जुटाने की जरूरत पर जोर दिया।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका और UK के इस फैसले से दुनिया में एक बार फिर कोल्ड वॉर की होगी शुरुआत? ड्रैगन के सरकारी मीडिया ने किसे बताया US का ‘कुत्ता’

डॉन अखबार ने खान के हवाले से कहा, ‘‘हमें अवश्य याद रखना चाहिए कि अफगान सरकार मुख्य रूप से विदेशी सहायता पर निर्भर है। तालिबान को अपने वादों को अवश्य पूरा करना चाहिए। ’’ खान ने कहा, ‘‘पाकिस्तान का शांतिपूर्ण एवं स्थिर अफगानिस्तान में महत्वपूर्ण हित जुड़ा हुआ है और वह इसे सहयोग करना जारी रखेगा। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘अफगानिस्तान को बाहर से नियंत्रित नहीं किया जा सकता। ’’ आठ देशों, चीन, रूस, कजाखस्तान, किर्गिजिस्तान, ताजिकिस्तान, उज्बेकिस्तान, भारत और पाकिस्तान का समूह एससीओ दुशांबे में अपना 21 वां शिखर सम्मेलन कर रहा है। अफगानिस्तान, एससीओ में एक पर्यवेक्षक है।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply