भारत पर 17 बार आक्रमण करने वाले गजनवी की कब्र पर पहुंचा पाकिस्तान का पिट्ठू हक्कानी, सोमनाथ को लेकर कही ये बात

किसी से बदला नहीं लेंगे, सभी की हिफाजत करेंगे। महिलाओं को पूरे अधिकार देंगे। काबुल पर कब्जे के बाद दुनिया के सामने आकर तालिबान ने यही बातें कही थी। लेकिन वास्तविक सच्चाई यही है कि तालिबान जैसी जमात पर किसी भी सूरत में भरोसा नहीं किया जा सकता है। तालिबानी हुकूमत के महीने भर के शासन में ही उनका असली चेहरा सामने आ गया। काबुल की तालिबानी हुकूमत में आतंरिक मंत्री के ओहदे पर बैठा आतंकी संगठन हक्कानी नेटवर्क का सरगना और पाकिस्तानी पिट्ठू अनस हक्कानी आंक्राता और लुटेरा महमूद गजनवी की कब्र पर पहुंचा और भारत पर 17 बार आक्रमण करने वाले गजनवी को मुजाहिद बताया और सोमनाथ का जिक्र भी किया।

 लुटेरे गजनवी को बताया योद्धा

अनस हक्कानी ने इस दौरे की फोटो अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट की हैं। उसने लिखा है- ‘आज हमने 10वीं शताब्दी के प्रसिद्ध मुस्लिम योद्धा और मुजाहिद सुल्तान महमूद गजनवी की दरगाह का दौरा किया। गजनवी ने एक मजबूत मुस्लिम शासन स्थापित किया और सोमनाथ मंदिर को तोड़ दिया।  

गजनवी ने सोमनाथ मंदिर को तोड़ा

सोमनाथ मंदिर को बार-बार विदेशी हमलावरों द्वारा लूटा गया। खासतौर पर मुस्लिम सुल्तानों और बादशाहों ने सोमनाथ मंदिर को तोड़ने और नष्ट करने के लिए गुजरात पर बार-बार हमले किए। करीब 50,000 योद्धाओं के बलिदान के पश्चात ही महमूद गजनवी सोमनाथ के मंदिर को तोड़ने में सफल हुआ था। गजनवी ने मंदिर की संपत्ति लूटी और उसे नष्ट कर दिया। तब मंदिर की रक्षा के लिए निहत्‍थे हजारों लोग मारे गए थे। ये वे लोग थे, जो पूजा कर रहे थे या मंदिर के अंदर दर्शन लाभ ले रहे थे और जो गांव के लोग मंदिर की रक्षा के लिए निहत्थे ही दौड़ पड़े थे। 

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •