9/11 स्मारक हमें आतंकवाद से लड़ने के सामूहिक संकल्प की याद दिलाता है: भारत

संयुक्त राष्ट्र। अमेरिका में 11 सितंबर 2001 को हुए आतंकवादी हमलों की बरसी के मौके पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने कहा है कि वे आतंकवाद के सभी रूपों को रोकने और उसका मुकाबला करने की अपनी प्रतिबद्धता को लेकर आज भी उतने ही एकजुट हैं जितने दो दशक पहले थे। वहीं, भारत ने कहा कि 9/11 स्मारक हमें आतंकवाद से लड़ने और इसे सही ठहराने के सभी प्रयासों का खंडन करने के सामूहिक संकल्प की याद दिलाता है।

इसे भी पढ़ें: महिला को नशीला पदार्थ देकर चार लड़को ने किया दुष्कर्म, दो हुए गिरफ्तार

पंद्रह सदस्य देशों वाली सुरक्षा परिषद ने हमलों की 20वीं बरसी पर बृहस्पतिवार को एक प्रेस बयान जारी किया, जिसमें याद किया गया कि परिषद ने दो दशक पहले हुए भयानक आतंकवादी हमलों की तुरंत निंदा की थी।
प्रेस बयान में कहा गया है, आज, सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने न्यूयॉर्क शहर में 11 सितंबर को हुए हमले के स्मारक और संग्रहालय की यात्रा के जरिये वर्षगांठ को चिह्नित किया। आतंकवाद के सभी रूपों के रोकने और उसका मुकाबला करने की अपनी प्रतिबद्धता के मामले में सुरक्षा परिषद के सदस्य आज भी उतने ही एकजुट हैं, जितने 20 साल पहले थे। सुरक्षा परिषद के 15 देशों के स्थायी प्रतिनिधियों ने नौ सितंबर को 9/11 स्मारक और संग्रहालय का दौरा किया था।

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश : प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस निकालेगी 12 हजार किलोमीटर लंबी यात्रा

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि राजदूत टी एस तिरुमूर्ति ने पीटीआई- से कहा, “9/11 आतंकी हमले की 20वीं बरसी पर न्यूयॉर्क के ग्राउंड जीरो में उपस्थित होना वास्तव में एक रोमांचक अनुभव था। मैंने शहीद हुए सभी लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित की, जिनमें कई भारतीय भी शामिल हैं। स्मारक हमें आतंकवाद से लड़ने और इसे सही ठहराने के सभी प्रयासों का खंडन करने के सामूहिक संकल्प की याद दिलाता है। सुरक्षा परिषद के प्रतिनिधिमंडल ने आतंकी हमलों में मारे गए 90 से अधिक देशों के 2,977 लोगों के सम्मान में स्मारक पर माल्यार्पण किया।

Source Link

Share:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply