आर्यन की गिरफ्तारी के बाद शाहरुख खान और गौरी का ये पुराना इंटरव्यू धड़ल्ले से हो रहा है वायरल

बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की क्रूज ड्रग्स मामले में गिरफ्तारी के बाद सोशल मीडिया पर उनके पिता का एक पुराना वी़डियो वायरस हो रहा है जिसमें वह आर्यन खान और ड्रग्स को लेकर बात करते हुए नजर आ रहे हैं। शाहरुख खान का एक पुराना इंटरव्यू आर्यन खान को मुंबई ड्रग्स मामले में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद वायरल हुआ। एनसीबी ने एक क्रूज जहाज पर छापेमारी में अवैध ड्रग्स बरामद किए थे, इस पार्टी में आर्यन खान मौजूद था। अधिकारियों ने बताया कि जांच के दौरान उनके खिलाफ मिले सबूतों के आधार पर आर्यन को गिरफ्तार किया गया था। आर्यन खान की गिरफ्तारी के बाद, शो रेंडीज़वस में शाहरुख खान विद सिमी गरेवाल का एक पुराना इंटरव्यू सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।
इंटरव्यू में सिमी गरेवाल शाहरुख खान से कहती हैं, “मुझे यकीन है कि आप अपने बेटे को बिगाड़ने वाले हैं।” तब किंग खान ने मजाक में कहा, “नहीं, बिल्कुल नहीं मैंने उसे अभी-अभी बताया है कि जब वह तीन या 4 साल का होता है तो वह लड़कियों के पीछे दौड़ सकता है, जितना चाहे धूम्रपान कर सकता है, वह ड्रग्स कर सकता है, वह सेक्स कर सकता है।

 

 सोशल मीडिया पर किंग खान का ये वीडियो खूब वायरस हो रहा है। शाहरूख खान को लोग काफी ज्यादा ट्रोल कर रहे हैं। शाहरूख खान का ये वीडियो यूजर्स अलग अलग टैग लाइन के साथ शेयर कर रहे हैं। एक यूजर ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि एसआर के ने अपने बेटे को अच्छी परवरिश ही नहीं दी तो आर्यन की इसमें क्या गलती। दूसरे यूजर ने लिखा 1997 में आर्यन खान के बारे में सिमी ग्रेवाल के एक टॉक शो में शाहरुख खान ने मजाक में कहा था कि उसका बेटा लड़कियों को डेट करे, ड्रग्स का भी लुत्फ उठाए। वह एक बुरा लड़का बन जाता है और अगर वह एक अच्छा लड़का दिखता है तो वे उसे घर से निकाल देंगे। ये समाज के लिए कैसा संदेश हैं।

आर्यन खान से एनसीबी अधिकारियों ने उस रेव पार्टी के सिलसिले में पूछताछ की थी जिसका भंडाफोड़ विभाग ने शनिवार रात मुंबई तट पर एक क्रूज जहाज पर अधिकारियों द्वारा छापेमारी के बाद किया था। पूछताछ के बाद स्टारकिड को गिरफ्तार कर लिया गया। 
आर्यन खान के अलावा दो अन्य मुनमुन धमेचा और अरबाज मर्चेंट को भी गिरफ्तार किया गया है। उन पर नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस (एनडीपीएस) अधिनियम की धारा 8 (सी), 20 (बी), 27 और 35 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Source Link

Leave a Reply