शरद पूर्णिमा में 30 सालों बाद बन रहा दुर्लभ संयोग, मां लक्ष्मी करेंगी धन वर्षा

अलीगढ़ः इस साल रविवार 13 अक्टूबर को शरद पूर्णिमा पर ज्योतिषशास्त्र के अनुसार 30 साल बाद दुर्लभ योग बन रहा है। ये शुभ योग चंद्रमा और मंगल के आपस में दृष्टि संबंध होने से बन रहा है। इस योग को महालक्ष्मी योग भी कहा जाता है। शरद पूर्णिमा पर शुभ योग के बनने से इस पूर्णिमा का महत्व और अधिक बढ़ जाएगा।
अवस्थी ज्योतिष संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष आचार्य आदित्य नारायण अवस्थी ने बताया कि रविवार 13 अक्टूबर को व्रत स्नान दान पूर्णिमा एवं शरद पूर्णिमा है। ज्योतिष शास्त्रों में मान्यता है कि आश्विन मास शुक्ल पक्ष पूर्णिमा का चंद्रमा सोलह कलाओं से परिपूर्ण होता है इस दिन चंद्रमा अमृत की वर्षा करता है। आज के दिन भगवान श्री कृष्ण ने यमुना जी के किनारे गोपिकाओं के साथ रासलीला रचाई थी इसलिए इसे रास पूर्णिमा भी कहते हैं। आचार्य जी ने कहा कि शाम के समय खीर बनाकर भगवान को भोग लगाएं, भजन करें और रात्रि में खीर से भरी थाली को खुली चांदनी में रख दें, इससे खीर अमृत समान प्रसाद तुल्य होती है। प्रातः खीर प्रसाद के स्वरूप में ग्रहण करने से धन, ऐश्वर्य, बल, आयु में वृद्धि होती है। शरद पूर्णिमा की रात्रि में घी का अखंड दीपक जलाकर माँ लक्ष्मी, श्री कुबेर जी की पूजा करें, इससे मनुष्य को सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। आज के दिन मां भगवती लक्ष्मी घर-घर घूमती हैं एवं जागते हुए अपने भक्तों को सुख समृद्धि का वरदान देती हैं। शरद पूर्णिमा में गंगा स्नान का फल कई गुना अधिक प्राप्त होता है।
कोजागरी पूर्णिमा
शरद पूर्णिमा को कोजागरी पूर्णिमा भी कहा जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस रात्रि पर मां लक्ष्मी पृथ्वी का भ्रमण करती हैं। इस वर्ष महायोग बनने के कारण शरद पूर्णिमा पर महालक्ष्मी की पूजा करने का फल अधिक मिलेगा। इस साल शरद पूर्णिमा पर स्वास्थ्य के साथ आर्थिक स्थिति में भी सुधार होने के योग बन रहे हैं।
ग्रह-नक्षत्रों की स्थिति
शरद पूर्णिमा पर मीन राशि में चंद्रमा और कन्या राशि में मंगल रहेगा। इस तरह दोनों ग्रह एक दूसरे के बिलकुल आमने-सामने रहेंगे। वही हस्त नक्षत्र में भी मंगल रहेगा, जो कि चंद्रमा के स्वामित्व वाला नक्षत्र है। इससे पहले ग्रहों की ऐसी स्थिति 30 साल पहले बनी थी।
एक और खास संयोग
चंद्रमा पर बृहस्पति की दृष्टि पड़ने से गजकेसरी नाम का एक और शुभ योग बन रहा है।
शरद पूर्णिमाः महायोग दिलाएगा सफलता
इस वर्ष महायोग बनने से शरद पूर्णिमा पर खरीदारी और नए काम शुरू करना शुभ रहेगा। इस शुभ संयोग में धन लाभ होने की संभावना और बढ़ जाएगी। इस दिन किए गए काम लंबे समय तक फायदा देने वाले रहेंगे।

Leave a Reply